Home » इंडिया » lok sabha 2019 chowkidars complained of congress and bjp campaign
 

'चौकीदार' बनें बीजेपी और कांग्रेस के गले की फांस, आयोग में शिकायत की दर्ज

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 March 2019, 11:11 IST

'चौकीदार' शब्द को लेकर भाजपा और कांग्रेस अक्सर एक दूसरे पर टिप्पणी करते नजर आते हैं. इसे लेकर पंजाब के लाल झंडा पेंडू चौकीदार यूनियन (सीटू) ने दोनों पार्टियों के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई.

सीटू का कहना है दोनों पार्टियां राजनीतिक फायदे के लिए चौकीदार शब्द को बदनाम कर रहे हैं. इसलिए दोनों पार्टियों के खिलाफ कार्रवाई की जाए. मालूम हो कि कांग्रेस 'चौकीदार चोर है' और भाजपा 'मै भी चौकीदार' नाम से अभियान चला रहे हैं, जिसे लेकर सीटू ने चुनाव आयोग को शिकायत की है.

सोशल मीडिया पर कांग्रेस द्वारा सबसे पहले 'चौकीदार चोर है' अभियान चलाया गया था. इस अभियान को लेकर सीटू के अध्यक्ष परमजीत सिंह नीलो ने आरोप लगाते हुए शिकायत की कि उनकी कांग्रेस द्वारा उनकी छवि को बिगाड़ा जा रहा है. उनका कहना है कि "सच्चाई ये है कि चौकीदार महज 1250 रुपए मासिक वेतन पर गांवों और शहरों में पूरी रात अपनी जान खतरे में डालकर चौकीदारी कर रहे हैं."

मालूम हो कि ‘चौकीदार चोर है’ पर एक गीत भी तैयार किया गया है, जो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है. इस गीत के वायरल होने पर तुरंत रोक लगाने की मांग की गई है. इसके अलावा सीटू ने चुनाव आयोग से मांग की है कि अकाली भाजपा गठबंधन के खिलाफ भी आचार संहिता के उल्लंघन का मामला दर्ज हो क्योंकि ये पार्टियां चौकीदारों को बदनाम कर रही हैं.

यूनियन अध्यक्ष परमजीत सिंह नीलो ने पीएम मोदी सवाल उठाते हुए कहा, "कहा कि प्रधानमंत्री लाखों रुपये वेतन लेकर खुद को चौकीदार कह रहे हैं जबकि असली चौकीदार और उनके परिवार भरपेट खाने को भी तरस रहे हैं."

बिहार में मतदान से पहले नक्सलियों का तांडव, बीजेपी नेता के घर को डायनामाइट ब्लास्ट से उड़ाया

First published: 28 March 2019, 11:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी