Home » इंडिया » Lok Sabha Election 2019: Owaisi targets AAP and TMC on questioning voting during Ramazan
 

ओवैसी ने रमजान पर चुनाव को लेकर सवाल उठाने वालों को लगाई लताड़, बोले- ज्यादा होगी वोटिंग

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 March 2019, 13:16 IST

लोकसभा चुनाव 2019 के लिए मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने तारीखों का ऐलान कर दिया है. 11 अप्रैल से शुरू होने वाला यह चुनाव सात चरणों में होगा. इसके साथ ही चुनाव की तारीखों को लेकर विवाद पैदा हो गया है. आखिरी तीन चरण के दौरान रमजान होने की वजह से इस पर घमासान शुरू होने पर ओवैसी ने भी अपना बयान दिया है. 

AIMIM नेता असदुद्दीन ओवैसी ने कहा कि कुछ लोग बेवजह विवाद पैदा कर रहे हैं. चुनाव एक बड़ी प्रक्रिया है. उन्होंने कहा कि जो रमजान पर चुनाव को लेकर सवाल उठा रहे हैं वे लोग मुस्लिमों को नहीं समझते. उन्होंने कहा एक मुसलमान होने के नाते मैं रमजान में चुनाव तारीखों का स्वागत करता हूं. हम रमजान में रोजा रखेंगे और वोट डालेंगे.

बता दें कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की पार्टी टीएमसी ने और आम आदमी पार्टी ने चुनाव की तारीखों को लेकर केंद्र की मोदी सरकार के प्रभाव का आरोप लगाया है. आप और टीएमसी चुनाव घोषणा की टाइमिंग पर सवाल उठा रहे हैं. दरअसल यूपी, बिहार, पश्चिम बंगाल और दिल्ली की अधिकतर सीटों पर आखिरी तीन चरण में चुनाव होना है, जहां मुस्लिम मतदाताओं की संख्या अच्छी-खासी है.

लोकसभा की कुल 543 में से 169 लोकसभा सीटों पर रमजान के दौरान वोटिंग होनी है. 6 मई, 12 मई और 19 मई को रमजान के दौरान वोट डाले जाएंगे. बता दें कि रमजान का मुकद्दस महीना इस साल 5 मई से शुरू हो रहा है. रमजान के दौरान मुस्लिम समाज के लोग सुबह सवेरे से शाम तक बिना कुछ खाए-पिए रोजा रखते हैं. इसलिए ये सवाल उठाए जाने लगे हैं कि रोजे और भीषण गर्मी के दौरान मुस्लिम मतदाता घंटों तक लाइन में लगकर कैसे वोटिंग करेंगे. 

टीएमसी और आप का कहना है कि इन राज्यों के मुस्लिम बहुल इलाकों में वोटिंग का प्रतिशत ऐसे में कम रह सकता है. इस तरह मुस्लिम मतदाता जिन पार्टियों को वोट देते हैं, उनकी विरोधी पार्टी को इसका फायदा मिल सकता है. 

First published: 11 March 2019, 13:11 IST
 
अगली कहानी