Home » इंडिया » Lok Sabha Elections 2019: Criminal complaint against Gautam Gambhir by AAP candidate Atishi
 

गौतम गंभीर के सामने फिर आई बड़ी मुसीबत, क्रिमिनल केस दर्ज, रद्द हो सकता है नामांकन

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 April 2019, 16:10 IST

पूर्वी दिल्ली से बीजेपी प्रत्याशी गौतम गंभीर के सामने एक और बड़ी मुसीबत आ गई है. उनके खिलाफ क्रिमिनल केस दर्ज किया गया है. पूर्वी दिल्ली से आम आदमी पार्टी प्रत्याशी ने बड़ा आरोप लगाते हुए उनके खिलाफ मामला दर्ज कराया है. आप प्रत्याशी अतिशी मर्लेना ने उन पर दो वोटर आईडी कार्ड रखने का दावा करते हुए पुलिस में शिकायत दर्ज कराई.

अतिशी ने दावा किया कि गंभीर के पास दिल्ली के ही दो अलग-अलग क्षेत्र करोल बाग और राजेन्द्र नगर के वोटर आईडी कार्ड्स हैं. अतिशी के अनुसार, गंभीर ने नामांकन दाखिल करते समय रिटर्निंग अफसर को दिए हलफनामे में यह बात छिपाई कि करोल बाग में भी उनका वोट रजिस्टर्ड है.

आतिशी के अनुसार, यह रिप्रजेंटेशन ऑफ द पीपुल एक्ट की धारा 125 ए के अंतर्गत दंडनीय अपराध है. इसमें छह महीने तक की जेल की सजा हो सकती है. इस बाबत अतिशी ने अपने ट्विटर अकाउंट पर दो मतदाना आईडी के फोटोग्राफ्स ट्वीट किए. इसमें दोनों क्षेत्र करोल बाग और राजिन्दर नगर में गौतम गंभीर का नाम रजिस्टर्ड दिख रहा है.

 

आतिशी ने ऐफिडेविट में गंभीर से झूठ बोलने का आरोप लगाकर दिल्ली के तीस हज़ारी कोर्ट के सामने मामला रखा है. आतिशी के आरोप के अनुसारस गौतम गंभीर ने नामांकन पत्र में अपना पता Rajinder Nagar-39, Part No 43, Serial No 285, EPIC No SMM1357243 बताया है. जबकि आतिशी ने पाया है कि गंभीर की वोटर आईडी Karol Bagh-23, Part No 86, Serial No 87, EPIC No: RJN1616218 के पते पर भी है.

दो वोटर आईडी कार्ड मामले को लेकर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी कहा है कि ऐसे व्यक्ति को वोट न दें जो अयोग्य घोषित होने वाला है. इससे पहले भी आतिशी ने गौतम गंभीर के नामांकन पत्र के एफिडेविट को लेकर सवाल खड़े किए थे. जिसके बाद गंभीर को नोटिस जारी कर जवाब देने के लिए बुलाया गया था. 

BJP के लिए बुरी खबर, गौतम गंभीर की नामांकन हो सकता है रद्द, अब तक नहीं हुआ मंजूर

भारत को दो-दो वर्ल्डकप जिताने वाले गौतम गंभीर क्या जीत पाएंगे अपना पहला चुनावी मैच?

First published: 26 April 2019, 16:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी