Home » इंडिया » Lok Sabha Elections 2019: Former PM Manmohan Singh target PM Modi and said there is no Modi wave
 

मनमोहन सिंह ने तोड़ी चुप्पी, पीएम मोदी पर किया करारा प्रहार, बोले- सबसे दर्दनाक और विनाशकारी..

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 May 2019, 18:21 IST

अपने शांत स्वाभाव और खामोश छवि के कारण अलग राजनीतिक पहचान बनाने वाले पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह आखिरकार अपनी चुप्पी तोड़ी और पीएम मोदी पर शब्दों के तीखे प्रहार किए. पूर्व प्रधानमंत्री ने पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा है कि मोदी का शासन भारत के युवाओं, किसानों और व्यापारियों के लिए ''सबसे दर्दनाक'' रहा है. उन्होंने कहा मोदी सरकार के पांच साल का कार्यकाल ''शासन और जवाबदेही'' की विफलता की दुखद कहानी थी.

मनमोहन सिंह ने जुबानी हमला बोलते हुए आगे कहा मोदी जी ने 'अच्छे दिन' का वादा करके सत्ता हासिल की थी लेकिन ये 5 साल देश के युवाओं, किसानों, व्यापारियों और हरेक लोकतांत्रिक संस्था के लिए सबसे विनाशकारी और दर्दनाक रहा है. पूर्व प्रधानमंत्री ने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा, कि पीएम मोदी ने अपनी सरकार पर किसी भी तरह के जांच को अपमानजनक और अस्वीकार्य माना है, जबकि यूपीए सरकार हर तरह की जांच के लिए तैयार थी और मैंने हर तरह की जांच का स्वागत किया.

मनमोहन सिंह ने कहा कि इस बार देश में किसी भी तरह की मोदी लहर नहीं है, देश की जनता मोदी सरकार को सत्ता से बाहर करने के लिए तैयार हैं जो सबके विकास में विश्वास नहीं करती है. मोदी सरकार सिर्फ राजनीतिक फायदे के लिए सत्ता और पावर का इस्तेमाल कर रही है. न्यूज एजेंसी पीटीआई की रिपोर्ट के मुताबिक, पूर्व प्रधानमंत्री ने आरोप लगाया कि मोदी शासन के पिछले पांच सालों के कार्यकाल में भ्रष्टाचार घटने की जगह बढ़ता ही गया है.

पूर्व पीएम ने मोदी सरकार को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि एनडीए सरकार के शासन में सबसे बड़ा घोटाला 'नोटबंदी' था. इसके अलावा उन्होंने दावा किया कि राष्ट्रीय सुरक्षा पर मोदी सरकार का रिकॉर्ड निराशाजनक था मोदी के शासन में आतंकवाद की घटनाओं ने जबरदस्त बढ़ोतरी हुई है. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार के शासन के दौरान जम्मू-कश्मीर में आतंकवादी हमलों में 176 फीसदी की वृद्धि हुई है और बॉर्डर पर संघर्ष विराम उल्लंघन 1,000 प्रतिशत बढ़ा है.

First published: 5 May 2019, 18:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी