Home » इंडिया » Lok Sabha Elections 2019: PM Narendra Modi says Rajeev Gandhi used INS Virat as taxy for holiday
 

'राजीव गांधी ने INS विराट पर सोनिया गांधी के साथ मनाया था पिकनिक, देश की सुरक्षा के साथ खिलवाड़'

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 May 2019, 15:10 IST

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को दिल्ली के रामलीला मैदान पर पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी को लेकर एक ऐसा बयान दिया जिसके बाद देश की राजनीति में तूफान आ गया. पीएम मोदी ने राजीव गांधी पर बड़ा आरोप लगाते हुए कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री ने युद्धपोत आईएनएस विराट को अपने सैर-सपाटे के लिए इस्तेमाल किया था.

पीएम मोदी ने आरोप लगाया कि राजीव गांधी ने इसे ‘निजी टैक्सी’ की तरह इस्तेमाल किया था. पीएम मोदी ने कहा कि वो कांग्रेस के कारनामों का खुलासा करते हैं तो कांग्रेस गुस्सा हो जाते हैं. इससे पहले पीएम मोदी ने राजीव गांधी को लेकर कहा था कि उनका अंत भ्रष्टाचारी नंबर 1 के रूप में हुआ था.

इंडिया टुडे में छपी थि रिपोर्ट

पीएम मोदी ने इंडिया टुडे मैगजीन की उस रिपोर्ट का हवाला देकर आरोप लगाया जो 21 नवंबर 2013 को प्रकाशित हुई थी. इस बाबत पीएम मोदी ने ट्वीट भी किया, "क्या कभी कोई ये कल्पना कर सकता है कि सेना का प्रमुख युद्धपोत निजी छुट्टियों के लिए टैक्सी के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है."

इंडिया टुडे की उस रिपोर्ट में आईएनएस विराट पर राजीव गांधी का परिवार और दोस्तों के साथ छुट्टियां मनाने का जिक्र है. रिपोर्ट के अनुसार, साल 1987 में तत्कालीन प्रधानमंत्री राजीव गांधी नए साल का जश्न मनाने के लिए अपने परिवार और कुछ खास दोस्तों के साथ छुट्टियां मनाने गए थे. राजीव गांधी ने इस दौरान 10 दिन तक छुट्टियां मनाई थीं.

सोनिया गांधी के रिश्तेदार थे मौजूद

रिपोर्ट के अनुसार, राजीव गांधी अपने चार दोस्तों सहित राहुल गांधी, प्रियंका, सोनिया गांधी की बहन, साले और उनकी बेटी, उनकी विधवा मां आर. मैनो, उनके भाई और मामा के साथ छुट्टी मनाने गए थे. राजीव के साथ इस पोत पर तब कांग्रेस से सांसद अमिताभ बच्चन, उनकी पत्नी जया बच्चन और उनके बच्चे भी थे.

इसके अलावा अमिताभ के भाई आजिताभ की बेटी (इनकी उस समय कथित रूप से फेरा के उल्लंघन में जांच चल रही थी) भी गई थीं. वहीं पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण सिंह के भाई विजेंद्र सिंह अपनी पत्नी के साथ शामिल थे. इसके अलावा दो अन्य विदेशी मेहमान भी पार्टी का हिस्सा थे.

10 दिन तक अरब सागर में था खड़ा

लक्षद्वीप पर मनाई इन छुट्टियों पर तब भी विवाद हुआ था और नौसेना के पोत के इस्तेमाल पर राजीव गांधी सरकार पर निशाना साधा गया था. रिपोर्ट के अनुसार, इस दौरान भारत का प्रमुख युद्धपोत रहे INS विराट पूरे 10 दिन तक अरब सागर में खड़ा रहा. तब कुछ रक्षा विशेषज्ञों ने इस पर सवाल भी उठाया था. रिपोर्ट के अनुसार, छुट्टियों के दौरान अगत्ती में स्पेशल सेटेलाइट का सेटअप भी लगाया गया था.

बता दें कि आईएनएस विराट को साल 1987 में ही भारतीय नौसेना में शामिल किया गया था. इसके बाद करीब 30 साल तक सेवा में रहने के बाद इसे साल 2016 में नौसेना से अलग कर दिया गया था.

First published: 9 May 2019, 15:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी