Home » इंडिया » Lok Sabha Elections 2019: Rahul Gandhi controversial comment on Lal Krishna Advani again
 

आडवाणी पर बदजुबानी से बाज नहीं आ रहे राहुल गांधी, अब बोले- लात मारकर स्टेज से उतारा

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 April 2019, 19:09 IST

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी को लेकर लगातार विवादित टिप्पणी कर रहे हैं. एक बार फिर राहुल गांधी ने उन्हें लेकर ओछा बयान दिया है. उत्तराखंड के हरिद्वार में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि आडवाणी जी को स्टेज से लात मारकर उतार दिया गया.

राहुल गांधी ने कहा कि नरेंद्र मोदी हिंदू धर्म की बात करते हैं. लेकिन हिंदू धर्म में सबसे जरूरी चीज गुरु होता है. उन्होंने जनता को बताया कि आडवाणी जी नरेंद्र मोदी के गुरु हैं और आडवाणी जी की हालत देखी है आपने? उन्हें लात मारकर नीचे उतार दिया गया.

 

बता दें कि एक दिन पहले भी राहुल गांधी ने आडवाणी को लेकर विवादित टिप्पणी की थी जिसके लिए उन्हें सुषमा स्वराज ने खरी-खोटी सुनाई थी. सुषमा स्वराज ने कांग्रेस अध्यक्ष को भाषा की मर्यादा बनाए रखने की नसीहत दी थी. सुषमा स्वराज ने ट्वीट कर कहा था, "राहुल जी - अडवाणी जी हमारे पिता तुल्य हैं. आपके बयान ने हमें बहुत आहत किया है. कृपया भाषा की मर्यादा रखने की कोशिश करें."

दरअसल, राहुल गांधी ने शुक्रवार को महाराष्ट्र के चंद्रपुर में रैली में कहा था कि मोदीजी अपने गुरु के आगे हाथ नहीं जोड़ते. राहुल ने कहा था कि मोदीजी ने अपने गुरु आडवाणी को जूता मारकर स्टेज से उतार दिया. राहुल ने कहा था, "हिंदू धर्म में सबसे जरूरी होता है गुरु. मोदीजी के गुरु कौन हैं...आडवाणीजी. शिष्य गुरु के सामने हाथ भी नहीं जोड़ता. स्टेज से उठाकर फेंक दिया नीचे गुरु को. जूता मारके आडवाणीजी को उतारा दिया स्टेज से और हिंदू धर्म की बात करते हैं."

राहुल गांधी ने आगे कहा था, "हिंदू धर्म में कहां लिखा है कि लोगों को मारना चाहिए. 2019 का चुनाव विचारधारा की लड़ाई है. कांग्रेस की विचारधारा भाईचारा, प्रेम और मोदी के नफरत, क्रोध, विभाजनकारी विचारधारा पर जीत हासिल करेगी."
 
First published: 6 April 2019, 19:09 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी