Home » इंडिया » lok sabha elections tea served in main bhi chowkidar cups on kathgodam shatabdi
 

PM मोदी को सपोर्ट करने के चक्कर में ठेकेदार ने ट्रेन में किया ऐसा काम, रेलवे ने कर दी बड़ी कार्रवाई

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 March 2019, 15:11 IST

काठगोदाम शताब्दी एक्सप्रेस में यात्रियों को 'मैं भी चौकीदार' वाले कप में चाय परोसा गया. इससे नाराज होकर एक शख्स द्वारा इसके खिलाफ शिकायत दर्ज कराई गई. शिकायत दर्ज होने के बाद रेलवे द्वारा सारे कप वापस ले लिए गए. चुनाव आयोग इस मामले को लेकर चुप्पी साधे है.

वहीं, मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, चुनाव आयोग का इस बारे में कहना है कि इस कप को किसी राजनीतिक पार्टी से लेना देना नहीं है. ये संकल्प फाउंडेशन से जुड़ा हुआ कप है. रेलवे ने ये सारे कप वापस ले लिया. 

वहीं, रेलवे द्वारा इसके खिलाफ कार्रवाई करने की बात कही है. रेलवे की ओर से जारी बयान में कहा गया कि, "यह आज हुआ लेकिन तुरंत कप को हटा लिया गया. ठेकेदार के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जा रही है. इसके अलावा सुपरवाइजर के खिलाफ भी कार्रवाई की जा रही है."

चुनाव आयोग द्वारा इससे पहले विमान और ट्रेनों की टिकटों पर मोदी की तस्वीर इस्तेमाल होने को लेकर रेलवे और उड्डयन मंत्रालय को नोटिस जारी किया था. लोकसभा चुनाव 11 अप्रैल से शुरू होने जा रहा है.

इसलिए इसे लेकर रेलवे और उड्डयन मंत्रालय को चुनाव आयोग द्वारा 27 मार्च को एक नोटिस जारी किया गया था, जिसमें चुनाव आयोग ने पूछा क्यों आदर्श चुनाव आचार संहिता के लागू होने के बाद भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तस्वीर रेल टिकटों तथा एयर इंडिया करे बोर्डिंग पास से नहीं हटाई गई. दोनों मंत्रालयों से 3 दिन में जवाब दाखिल करने के लिए कहा गया है.

मालूम हो कि 'चौकीदार' शब्द का इस्तेमाल कांग्रेस और बीजेपी एक दूसरे को निशाना साधने के लिए करते आ रहे हैं. एक ओर जहां कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने 'चौकीदार चोर है' अभियान से इसकी शुरूआत की थी, तो वहीं दूसरी ओर पीएम मोदी द्वारा मै भी चौकीदार हूं का विपक्षी पार्टियों पर निशाना साधने के लिए किया गया. अब ये दोनों पार्टियों के लिए खतरनाक बनता जा रहा है.

परीक्षा में नकल करते हुए पकड़ा गया गुजरात BJP अध्यक्ष का बेटा

First published: 29 March 2019, 15:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी