Home » इंडिया » Lok Sabha passes Citizenship Amendment Bill 2019 at midnight, now in Rajya Sabha
 

लोकसभा में आधी रात को पास हुआ नागरिकता संशोधन बिल, अब राज्यसभा में होगा पेश

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 December 2019, 9:25 IST

Citizenship Amendment Bill 2019: लोकसभा(Lok Sabha) में तीखी बहस के बीच सोमवार देर रात नागरिकता संशोधन बिल, 2019 पास हो गया है. बिल पर करीब 7 घंटे तक जोरदार बहस चली. इस बिल का पास होना मोदी सरकार(Modi Government) के लिए बड़ी उपलब्धि माना जा रहा है. लोकसभा मेें पास होने के बाद अब यह बिल राज्यसभा(Rajya Sabha) में पेश होगा. इसके लिए भारतीय जनता पार्टी(BJP) ने अपने सभी सांसदोंं को उपस्थित रहने के लिए व्हिप जारी कर दिया है.

लोकसभा में रात 12 बजे मतदान के बाद बिल पास हुआ. नागरिकता संसोधन बिल के पक्ष में 311 वोट पड़े, जबकि विपक्ष में कुल 80 वोट पड़े. बिल पर बहस पर के दौरान गृह मंत्री अमित शाह ने सभी सवालों का जवाब दिए. अमित शाह ने बिल पर बहस के अंत में भाषण दिया, जिसकी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी(Narendra Modi) ने काफी तारीफ की. अमित शाह(Amit Shah) ने भी पीएम मोदी का शुक्रिया किया. 

क्या है नागरिकता संशोधन बिल 2019

पाकिस्तान, अफगानिस्तान और बांग्लादेश आदि देशों से उत्पीड़न के चलते भागकर आए हिंदू, ईसाई, सिख, पारसी, जैन और बौद्ध धर्म मानने वाले लोगों को नागरिकता संशोधन विधेयक 2019 के तहत भारत की नागरिकता प्रदान करने की व्यवस्था की जाएगी. विधेयक को कांग्रेस ने असंवैधानिक करार देते हुए विरोध किया. 

बिल के विरोध में काफी जगह विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है. असम के दीब्रूगढ़ में ऑल असम स्टूडेंट्स यूनियन नागरिकता बिल के खिलाफ प्रदर्शन कर रही है. हाल ही में एनडीए छोड़कर गई शिवसेना ने भी बिल के पक्ष में मतदान किया. चर्चा के दौरान गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि न तो मुस्लिमों को और न ही पूर्वोत्तर में रहने वाले लोगों को चिंता करने की जरूरत है. 

लोकसभा में नागरिकता संशोधन बिल पेश, गृह मंत्री बोले- ये अल्पसंख्यकों के खिलाफ नहीं

बाबरी विध्वंस को लेकर आडवाणी पर किया आपत्तिजनक पोस्ट, AMU के दो छात्रों पर मामला दर्ज

First published: 10 December 2019, 9:01 IST
 
अगली कहानी