Home » इंडिया » lok-sabha speaker gets angry over mps on water crisis
 

लोकसभा स्पीकर ने पानी पर सांसदों को लगाई फटकार

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 May 2016, 18:34 IST

लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन आज प्रश्नकाल के दौरान देश के अलग-अलग हिस्सों में पानी की कमी के मसले पर कई सदस्यों के एक साथ बोलने से बेहद खफा हो गईं.

उन्‍होंने सांसदों को लगभग डांटते हुए कहा कि क्या आपके यहां चिल्लाने से लोगों को पानी मिल जाएगा.

संसद में प्रश्नकाल के दौरान देश के विभिन्न हिस्सों में खासतौर पर सूखा प्रभावित क्षेत्रों में पानी की कमी के मुद्दों पर पूछे गए एक प्रश्न पर मंत्री के जवाब के बाद सदस्य पानी की कमी के संबंध में अपनी बात रख रहे थे.

स्पीकर सुमित्रा महाजन ने कहा कि देश में सूखे की स्थिति पर सदन में नियम 193 के तहत विस्तृत चर्चा होने वाली है. उस समय हमारा प्रयास रहेगा कि सभी सदस्य अपनी बात सदन में रख सकें. लेकिन स्पीकर के इतना कहने के बावजूद कुछ सदस्य अपने स्थान पर खड़े होकर बोलते रहे.

इसके बाद लोकसभा स्पीकर ने झल्लाते हुए कहा, "क्या आप लोगों के द्वारा मेरे ऊपर चिल्लाने से पानी मिल जाएगा. अगर मुझ पर चिल्लाने से पानी मिलता है तो आप चिल्लाते रहें."

इससे पहले ऊर्जा मंत्री पीयूष गोयल द्वारा एक सवाल का लंबा जवाब दिए जाने पर स्‍पीकर ने कहा कि मंत्री जी संक्षिप्‍त जवाब दें, इतना लंबा बोलने की आवश्यकता नहीं है.

स्‍पीकर ने पीयूष गोयल से कहा कि आप युवा हैं और ऊर्जावान हैं. आप अच्‍छा काम कर रहे हैं, लेकिन आपको अपना जवाब संक्षिप्‍त में देना चाहिए.

स्पीकर सुमित्रा महाजन के बात का समर्थन करते हुए समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और आजमगढ़ से सांसद मुलायम सिंह यादव ने भी कहा कि मंत्रियों को हां-ना या फिर छोटे जवाब देने चाहिए.

पहले प्रश्‍नकाल में 15-16 सवाल पूछे जाते थे लेकिन अभी लंबे जवाबों की वजह से कुछ ही सवाल हो पाते हैं.

First published: 5 May 2016, 18:34 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी