Home » इंडिया » loksabha election 2019 mulayam sing yadav and mayawati rally in mainpuri
 

24 साल बाद एक बार फिर मुलायम-मायावती नजर आएंगे एक साथ

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 April 2019, 9:10 IST

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री मायावती और मुलायम सिंह कई सालों बाद चुनावी मंंच साझा करने जा रहे हैं. दोनों की एक-दूसरे के कट्टर विरोधी थे. मायावती और मुलायम सिंह की आज मैनपुरी में रैली है.

1995 गेस्टकांड के लगभग 24 साल बाद ये एक-दूसरे के साथ मंच पर खड़े रहेंगे. इसलिए पूरे देश की जनता की नजरे मैनपुरी रैली पर टिकी हुई हैं. मैनपुरी में होने वाली रैली में लाखों लोगों के जुटने की संभावना है. यहां 23 अप्रैल को तीसरे चरण की वोटिंग होने जा रही है.

आज मैनपुरी के क्रिश्चियन फील्ड में महागठबंधन (समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी और राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी) की संयुक्त रैली है. इस रैली के जरिए भाजपा को दिखाने की कोशिश की जाएगी कि महागठबंधन एकजुट होकर कार्य कर रही है.

इस रैली की तैयारियां कर रहे सपा जिलाध्यक्ष खुमान सिंह वर्मा ने कहा कि रैली को बसपा मुखिया मायावती, सपा प्रमुख अखिलेश यादव और राष्ट्रीय लोकदल के अध्यक्ष चौधरी अजित सिंह संबोधिक करेंगे.

Video: BJP प्रवक्ता जीवीएल नरसिम्हा राव पर प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान फेंका जूता, मुंह पर जाकर लगा

इस रैली की तैयारियां कर रहे सपा जिलाध्यक्ष खुमान सिंह वर्मा ने कहा कि रैली को बसपा मुखिया मायावती, सपा प्रमुख अखिलेश यादव और राष्ट्रीय लोकदल के अध्यक्ष चौधरी अजित सिंह संबोधिक करेंगे. शुरुआती खबरों के मुताबिक, इस रैली में पहले मुलायम सिंह यादव शामिल नहीं हो रहे थे, लेकिन बाद में उन्होंने रैली में शामिल होने के लिए हामी भरी. मैनपुरी के सदर से सपा विधायक राज कुमार ने मुलायम के रैली में शामिल होने की बात की पुष्टि की है.

मालूम हो कि सपा और बसपा के बीच साल 1993 में भी गठबंधन हुआ था, जिसके बाद 5 जून 1995 को इनके बीच दरारें आई. 5 जून 1995 में गेस्टहाउस कांड हुआ, जिसमें मायवती और मुलायम सिंह के बीच खाई पैदा हो गई थी. हालांकि लोकसभा चुनाव से पहले समादवादी पार्टी से हाथ मिलाने के बाद मायावती ने स्पष्ट कर दिया है कि भाजपा को हराने के लिए दोनों पार्टियों ने आपसी रंजिशें दूर कर ली हैं.

कंगाल पाकिस्‍तान के लिए आई सबसे बड़ी मुसीबत, वित्‍त मंत्री ने देश को मझदार में छोड़ दिया इस्‍तीफा

First published: 19 April 2019, 9:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी