Home » इंडिया » London court rejects Nirav Modi’s bail plea, to remain in custody
 

नीरव मोदी की जमानत अर्जी लंदन की अदालत में फिर हुई रिजेक्ट

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 March 2019, 22:08 IST

 

भगोड़े कारोबारी नीरव मोदी की जमानत याचिका शुक्रवार को लंदन में वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट कोर्ट द्वारा दूसरी बार खारिज कर दी गई. अधिकारियों ने उसकी उपस्थिति के आगे अदालत के साथ साक्ष्य की एक नई फाइल प्रस्तुत की थी. भारतीय अधिकारियों की ओर से अभियोजन का प्रतिनिधित्व करने वाले टोबी कैडमैन ने लंदन के वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट अदालत में अंतिम रूप से प्रस्तुत करते हुए कहा कि नीरव भारतीय एजेंसियों के साथ सहयोग नहीं कर रहा है और एक जोखिम है कि वह भाग सकता है. गवाहों को प्रभावित करेगा और सबूत नष्ट करेगा.

नीरव मोदी को अब मामले की अगली सुनवाई के दौरान 26 अप्रैल को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पेश किया जाएगा. सुनवाई के लिए प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) और केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की एक संयुक्त टीम भी लंदन में थी.

इस बीच नीरव मोदी के अटॉर्नी क्लेयर मोंटगोमरी ने कहा कि वह जनवरी 2018 से ब्रिटेन में है. "उन्हें अगस्त 2018 से पता चला है कि उनका प्रत्यर्पण होने जा रहा है और सुरक्षित ठिकाने के रूप में कोई जगह नहीं है. क्लेयर ने कहा कि वह ब्रिटेन में खुलेआम रहते हैं और छुपने का कोई प्रयास नहीं करते हैं.

भारत एंटी-सैटेलाइट मिसाइल पर चीन से आयी प्रतिक्रिया, कहा- अमेरिका ने अपनाया दोहरा मापदंड

First published: 29 March 2019, 22:08 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी