Home » इंडिया » ltc scam prosecution of jdu mp anil sahani
 

जेडीयू सांसद अनिल साहनी पर एलटीसी घोटाले में चलेगा केस

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 April 2016, 14:12 IST

राज्यसभा के सभापति हामिद अंसारी ने जेडीयू सांसद अनिल साहनी के खिलाफ एलटीसी घोटाले में सीबीआई को केस चलाने की इजाजत दे दी है.

राज्यसभा के इतिहास में ऐसा पहली बार हो रहा है, जब किसी सांसद के खिलाफ इस तरह के मामले में केस चलाने को मंजूरी दी गई है.

सभापति हामिद अंसारी ने सीबीआई को भारतीय दंड संहिता की धारा 197 के तहत राज्यसभा सांसद अनिल साहनी के खिलाफ केस चलाने को हरी झंडी दे दी है.

दंड संहिता की इस धारा के तहत राज्यसभा के सभापति को सदन के सांसद पर केस चलाने की इजाजत देने का अधिकार है.

एलटीसी घोटाले में जेडीयू सांसद अनिल साहनी समेत चार लोगों आरोप है. इसके बारे में सीबीआई ने 2015 में दाखिल अपनी चार्जशीट में जानकारी दी थी.

चार्जशीट में दिल्ली की एयर क्रूज ट्रैवल प्राइवेट लिमिटेड के कर्मचारी अनूप सिंह पंवार, एयर इंडिया के तत्कालीन कार्यालय अधीक्षक (यातायात) एनएस नायर और अरविंद तिवारी शामिल हैं.

पढ़ें:नारद स्टिंग केस: लोकसभा की आचार समिति ने टीएमसी सांसदों से मांगा जवाब

24 लाख के फर्जी बिल भुगतान का आरोप

एलटीसी घोटाला 2013 में उजागर हुआ था. आरोप है कि हवाई यात्रा के फर्जी ई-टिकट और नकली बोर्डिंग पास दिखाकर सरकारी खजाने को 23 लाख 71 हजार का चूना लगाया गया. 

वहीं जेडीयू सांसद अनिल साहनी ने अपनी सफाई में कहा है कि ये मामला उन्हें फंसाने की साजिश है. साहनी ने कहा कि उनके पास 24 लाख तो क्या, 24 पैसे भी घोटाले का नहीं है. 

साहनी ने सभापति हामिद अंसारी को पत्र लिखा है. साहनी के मुताबिक ये सब उन्हें परेशान करने के लिए किया जा रहा है. अगर उन्हें ये जानकारी होती कि कौन उनके खिलाफ साजिश कर रहा है तो वो उसे 10 जूते मारते.

पढ़ें:बसपा सांसद नरेंद्र कश्यप बहू की हत्या के आरोप में गिरफ्तार

एक साल में मिलता है 34 मुफ्त एयर टिकट


जेडीयू सांसद अनिल साहनी का कार्यकाल अप्रैल 2018 में पूरा हो रहा है. वहीं जेडीयू के वरिष्ठ नेता केसी त्यागी का कहना है कि पार्टी को मामले की जानकारी है. कोई भी फैसला लेने से पहले अनिल साहनी का पक्ष भी पार्टी सुनेगी.

वहीं आरजेडी के प्रवक्ता मनोज झा का कहना है कि कानून सबसे ऊपर है. संविधान और कानून के मुताबिक जो उचित हो, वही किया जाना चाहिए.

राज्यसभा और लोकसभा के सांसदों को साल में अपने, परिवार के सदस्यों और सहयोगियों के लिए अपने निर्वाचन क्षेत्र की घरेलू यात्रा के लिए 34 मुफ्त हवाई टिकट मिलते हैं.

पढ़ें:जेडीयू विधायक: मेरे पास बारुद और बंदूक है, मैं करूंगा आपकी सुरक्षा

First published: 15 April 2016, 14:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी