Home » इंडिया » M Nageshwar Rao very close to RSS, take part in these programs
 

RSS के बेहद करीबी हैं CBI के नए अंतरिम निदेशक एम नागेश्वर राव, इन कार्यक्रमों में लेते हैं हिस्सा

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 October 2018, 10:35 IST

केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) के अंतरिम प्रभारी एम नागेश्वर राव को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के प्रमुख सदस्यों के करीब होने के अलावा हिंदू सांस्कृतिक के लिए कई अहम कार्यों के लिए जाना जाता है. इकोनॉमिक टाइम्स की एक रिपोर्ट के अनुसार राव राज्य नियंत्रण से मंदिरों को मुक्त करने जैसे कानूनों के अलावा अल्पसंख्यक पक्षपात और हिंदुओं के खिलाफ भेदभाव पर रोक लगाने वाले कानून का विरोश करने वाले कई संगठनों के साथ काम कर रहे हैं.

इसके अलावा नागेश्वर राव और गोमांस निर्यात पर प्रतिबंध लगाने की मांग करने वाले संगठनों के साथ सहयोग कर रहे हैं. रिपोर्ट के अनुसार नागेश्वर राव को 'हिंदू पुनर्जागरण' के क्षेत् में उनकी विशेष रूचि के लिए जाना जाता है और वह इंडिया फाउंडेशन और विवेकानंद इंटरनेशनल फाउंडेशन जैसे प्रभावशाली थिंक टैंक के कार्यक्रमों में भाग लेते हैं. एम नागेश्वर को आरएसएस प्रचारक-बीजेपी नेता राम माधव का करीबी माना जाता है जो इंडिया फाउंडेशन चलाते हैं.

माना जाता है कि राव उन सात प्रमुख लोगों में से एक थे जिन्होंने 23 सितंबर को कार्यकर्ताओं और विद्वानों के एक समूह द्वारा जारी किये गए प्रमुख हिंदू मांगों के चार्टर को तैयार करने में मदद की थी. नागेश्वर राव हैदराबाद की उस्मानिया यूनिवर्सिटी से केमिस्ट्री में पोस्ट ग्रैजुएट है. उन्होंने आईआईटी मद्रास में रिसर्च भी किया है. 2016 में राव को सीबीआई में जॉइंट डायरेक्टर बनाया गया था.

एम नागेश्वर राव सीबीआई में ही ज्वाइंट डायरेक्टर के पद पर थे. एक सरकारी आदेश में कहा गया कि प्रधानमंत्री की अगुवाई वाली नियुक्ति समिति ने मंगलवार की रात संयुक्त निदेशक एम नागेश्वर राव को तत्काल प्रभाव से सीबीआई निदेशक के पद का प्रभार दिया.

नागेश्वर राव के अंतरिम डायरेक्टर बनते ही उनके नाम पर भी विवाद सामने आने लगा है. सीबीआई विवाद की लपटें संगठन के अंतरिम निदेशक नागेश्वर राव तक भी आ पहुंची हैं. द्रविड़ मुन्नेत्र कड़गम के मुखिया एम.के स्टालिन ने कहा कि राव के खिलाफ आलोक वर्मा ने कई शिकायतें भेजी थीं. वह उन पर लगे आरोपों को लेकर जांच-पड़ताल भी शुरू कराने वाले थे.

First published: 26 October 2018, 10:30 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी