Home » इंडिया » Madhya Pradesh: Complaint on CM helpline regarding hand pump, got answer- Complainant is insane, epileptic seizures
 

मध्यप्रदेश: हैंडपंप को लेकर CM हेल्पलाइन पर की शिकायत, मिला जवाब- शिकायतकर्ता हैं पागल, आते हैं मिर्गी के दौरे

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 July 2020, 18:24 IST

मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के भिंड (Bhind) से एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. खबरों की मानें तो एक व्यक्ति ने गांव में हैंडपंप के खराब होने की शिकायत सीएम हेल्पलाइन पर की. इस शिकायत के एक महीने बाद उस व्यक्ति को जवाब मिला, लेकिन जो जवाब आया उसने सबको हैरान करके रख दिया. सीएम हेल्पलाइन पर जवाब देते हुए शिकायतकर्ता के लिए लिखा गया कि शिकायतकर्ता पागल है उसे और उसके पूरे परिवार को मिर्गी के दौरे आते हैं.

न्यूज एजेंसी एनएनआई की रिपोर्ट के अनुसार, भिंड के लहार ब्लाक के रहावली गांव में रहने वाले किसान राहुल दीक्षित ने मुख्यमंत्री हेल्पलाइन पर शिकायत की थी. खबरों के अनुसार, राहुल दीक्षित ने शिकायत करते हुए लिखा था,"गांव में 8 महीने पहले हैंडपंप लगाया गया था, लेकिन हैंडपंप में पूरा सामान नहीं डाला गया था, बस बोर करके छोड़ दिया गया था. हैंडपंप पीएई सिचाई विभाग द्वारा लगाया गया था." राहुल ने इसे जल्द से जल्द सही करने की मांग की थी. 


राहुल को इस शिकायत का जवाब करीब एक महीने बाद मिला था, और जब उन्होंने जवाब पढ़ा तो वो हैरान रह गए. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, राहुल की शिकायत का निराकरण करते हुए जवाब लिखा गया,"शिकायतकर्ता पागल हैं और उसको मिर्गी के दौरे पड़ते हैं. शिकायतकर्ता के पूरे परिवार को मिर्गी के दौरे पड़ते हैं. हैंडपंप खराब नहीं है, बल्कि इसका दिमाग खराब है.पूरा पीएचई महकमा जानता है. हैंडपंप मेकेनिक के कपड़े इस पागल ने फांड दिए थे."

वहीं इस तरह का जवाब मिलने के बाद राहुल ने कहा,"जवाब में पागल बताए जाने से मेरी समाज में बदनामी हुई है." इस पूरे मामले में भिंड के पीएचई विभाग के कार्यपालन यंत्री पी.के.गोयल ने इसे विभाग के किसी अधिकारी की शरारत बताया. उन्होंने कहा,"ये पक्का है कि हमारे विभाग के ही किसी ने ये शरारत की है, इसकी जांच के लिए कलेक्टर को पत्र लिखा है."

पानी में बह गया 264 करोड़ का पुल, नीतीश ने एक महीने पहले किया था उद्घाटन

 

First published: 16 July 2020, 18:24 IST
 
अगली कहानी