Home » इंडिया » Madhya Pradesh Dewas Flag Pakistan Flag Case against House Owner
 

मध्यप्रदेश: छत पर लहराया पाकिस्तान का झण्डा, मचा हड़कंप, मकान मालिक के खिलाफ दर्ज हुआ केस

कैच ब्यूरो | Updated on: 31 August 2020, 10:16 IST

मध्यप्रदेश के एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है, जहां एक आदमी ने अपने घर पर पाकिस्तानी झंडा लहराया था. बताया जा रहा है कि बाद में जिसके घर पर पाकिस्तानी झंडा लहराया था, उसे गिरफ्तार कर लिया गया.

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, पुलिस ने बताया कि देवास जिले के शिप्रा गाँव के निवासी फारुख खान को भारतीय दंड संहिता की धारा 153A (धर्म, नस्ल, जन्म स्थान, निवास स्थान, भाषा के स्थान पर दुश्मनी को बढ़ावा देने और सौहार्द बनाए रखने के लिए पक्षपातपूर्ण कार्य करने) के तहत गिरफ्तार किया गया है.


बता दें, फारुख खान के घर पर पाकिस्तानी झंडा लहराने का वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो गया. हालांकि, सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो में कोई भी उस दौरान छत पर दिखाई नहीं दे रहा है. बता दें, जैसे ही घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ वैसे ही स्थानिय प्रशासन के अधिकारी मौके पर पहुंच गए.

खबर के अनुसार, क्षेत्र के संबंधित तहसीलदार ने एक राजस्व निरीक्षक लाखन सिंह को मौके पर जाने के लिए भेजा कि क्या वास्तव में पाकिस्तानी झंडा  लहराया था. लखन सिंह ने कहा,"जब मैं फारुख खान से मिला तो उन्होंने मुझे बताया कि उनके नाबालिग बेटे ने अज्ञानता के कारण पाकिस्तान के राष्ट्रीय ध्वज को फहराया था और जब उन्हें पता चला कि उन्होंने झंडा जलाया है."

देवास के इंडस्ट्रियल एरिया पुलिस स्टेशन के प्रभारी उप-निरीक्षक आरके शर्मा ने कहा,"राजस्व निरीक्षक लाखन सिंह ने रविवार को फारुख खान के बयान के आधार पर पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई है. एक टीम जांच के लिए शिप्रा गांव में खान के घर पहुंची. खान ने अपने बयान को दोहराया कि उनके नाबालिग बेटे ने अज्ञानता के कारण पाकिस्तान के झंडे को फहराया था और जब उसने देखा कि उसने झंडे को हटा दिया है और इसे जलाकर नष्ट कर दिया है."

रिपोर्ट के अनुसार, जांच अधिकारी जितेंद्र यादव ने रविवार रात को बताया कि फारूख ने पुलिस से झूठ कहा था. उन्होंन कहा,"फरुख खान का बयान आंशिक रूप से असत्य पाया गया क्योंकि उन्होंने उस ध्वज को नष्ट नहीं किया था, जिसे अब जब्त कर लिया गया है. एफआईआर में फारुख खान के परिवार के सदस्यों के नाम भी हैं, लेकिन हम अभी नामों का खुलासा नहीं करेंगे. हालांकि, केवल फारुख खान को गिरफ्तार किया गया है और उसे सोमवार को स्थानीय अदालत में पेश किया जाएगा."

जितेंद्र यादव ने आगे कहा कि यह अभी जांच का विषय है कि आखिर फारूख  या उनके परिवार के किसी अन्य सदस्य के पास पाकिस्तानी झंडा कहा से और कैसे आया. यादव ने बताा कि मामले में फारूख के परिवार के सदस्यों से भी पूछताछ की जाएगी.

कोरोना वायरस सर्दी में ले सकता है विकराल रूप, अकेले ब्रिटेन में 85 हजार लोगों की मौत की आशंका

First published: 31 August 2020, 8:57 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी