Home » इंडिया » Madhya Pradesh Election: BJP MLA and leader fight in public during election campaign
 

मध्य प्रदेश चुनाव: आपस में ही भिड़े BJP विधायक और वरिष्ठ नेता, सरेआम दी मारपीट की धमकी

कैच ब्यूरो | Updated on: 17 November 2018, 8:56 IST
(प्रतीकात्नक तस्वीर)

मध्य प्रदेश में भी चुनावों को लेकर हलचल बढ़ती जा रही है. ऐसे भी एक तरफ जहां भारतीय जनता पार्टी चुनाव जीतन के लिए पुरजोर प्रचार और कोशिशों में लगी हुई हैं तो वहीं दूसरी तरफ भाजपा एक विधायक और नेता आपस में ही टकराने लगे हैं. मध्य प्रदेश में चुनावी सरगर्मी अब बीजेपी के भीतर की रार पैदा करती दिख रही है. मध्य प्रदेश में भाजपा से विधायक रहे सुदर्शन गुप्ता ने भाजपा के ही एक वरिष्ठ नेता विष्णुप्रसाद शुक्ला को कथित तौर पर "हिस्ट्रीशीटर" कहा है. ये सुनने के बाद विष्णुप्रसाद शुक्लाविष्णुप्रसाद इतना बढ़ा कि उन्होने सरेआम घूँसा मरकर दांत तोड़ने की धमकी दे डाली.

अपने खिलाफ हिस्ट्रीशीटर शब्द सुनकर बौखलाए शुक्ला ने कहा, ''अगर विधानसभा चुनाव नहीं होते और गुप्ता मेरे खिलाफ इस तरह की टिप्पणी करते तो मैं घूंसा मारकर उनके दांत गिरा देता".


गौरतलब है कि मध्यप्रदेश की राजनीति में भाजपा नेता शुक्ला 'बड़े भैया' के नाम से मशहूर हैं. उन्होने चुनावों का हवाला देकर खुद को रोकने की बात कही. उन्होंने कहा, '' चुनावों में गुप्ता मेरी पार्टी (भाजपा) के उम्मीदवार हैं और उनके सामने मेरा बेटा चुनाव लड़ रहा है. लिहाजा मैं इस स्थिति में अभी शांत रहना ही बेहतर समझता हूं".

गौरतलब है कि गुप्ता को भाजपा ने 28 नवंबर को होने वाले विधानसभा चुनावों में उन्हें बतौर उम्मीदवार फिर चुनावी मैदान में उतारा है. और सीट पर उनके सामना कर रहे हैं कांग्रेस की ओर से संजय शुक्ला जो भाजपा नेता विष्णुप्रसाद शुक्ला के बेटे हैं.

चंद्रबाबू नायडू की राह पर ममता बनर्जी, पश्चिम बंगाल में भी CBI को नहीं मिलेगी Entry

क्या था मामला

सुदर्शन गुप्ता बीते दिनों में हुए के चुनावी कार्यक्रम के दौरान विष्णुप्रसाद शुक्ला को कथित तौर पर "हिस्ट्रीशीटर" कहा था. गुप्ता के इसी बयान को लेकर विवाद इतना बढ़ गया कि बीच बचाव करने के लिए भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय को आगे आना पड़ा. विजयवर्गीय ने इस मामले में कहा, "उत्तेजना में गुप्ता के मुंह से बड़े भैया (शुक्ला) के लिये गलत शब्द निकल गये थे. बड़े भैया भाजपा के वरिष्ठ नेता हैं. कांग्रेस के पूर्ववर्ती शासनकाल में उनके खिलाफ झूठे मामले दर्ज कराये गये थे. जहां तक मैं जानता हूं, उन्होंने अपने जीवन में किसी को एक थप्पड़ भी नहीं मारा है".

First published: 17 November 2018, 8:56 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी