Home » इंडिया » Madhya Pradesh: FIR lodged against chief minister Kamal Nath
 

बुरे फंसे मध्य प्रदेश के नए-नवेले CM कमलनाथ, इस मामले में दर्ज हुआ केस

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 December 2018, 18:56 IST

मध्य प्रदेश का सीएम बनते ही कमलनाथ पर मुसीबतों का पहाड़ टूट पड़ा है. उनके खिलाफ केस दर्ज किया गया है. दरअसल, पद्भार संभालते ही कमलनाथा ने कई कड़े फैसले लिए और बड़ा बयान भी दिय. इसी बयान और फैसले के कारण कमलनाथ मुसीबत में फंस गए हैैं. बिहार के बेतिया में उनके खिलाफ केस दर्ज हुआ है.

कमलनाथ ने एक बयान दिया था कि मध्य प्रदेश में 70 परसेंट नौकरियां बिहार व यूपी के लोग ले लेते हैं. इसलिए, यहां डोमिशाइल लागू किया जाए. इस बात से बिहार और यूपी में हाहाकार मच गया. कमलनाथ के बयान से आहत बेतिया कोर्ट में अधिवक्ता मुराद अली ने मध्य प्रदेश के सीएम कमलनाथ के खिलाफ परिवाद दर्ज कराया है. परिवाद में उन्होंने कहा कि कमलनाथ के बयान से बिहार व यूपी के लोग अपमानित महसूस कर रहे है.

पढ़ेंं- दिग्विजय सिंह पर मेहरबान कांग्रेस सरकार, शिवराज सरकार ने छीना कमलनाथ ने वापस किया बंगला

परिवाद दायर होते ही सीजेएम ने संज्ञान लेते हुए सुनवाई के लिए दंडाधिकारी मानस कुमार की बेंच में केस को ट्रांसफर कर दिया है. मामले की अगली सुनवाई अगले साल 3 फरवरी को होगी. हालांकि, आगे ही पता चल पाएगा कि इस केस में क्या कार्रवाई होती है. लेकिन, इस केस ने कमलनाथ की मुसीबत बढ़ा दी है.

First published: 19 December 2018, 18:56 IST
 
अगली कहानी