Home » इंडिया » Madhya Pradesh: PM Modi attend muharram matam of imam hussain in Indore saifee nagar mosque
 

PM मोदी ने मध्य प्रदेश की इस मस्जिद में गुजारे 35 मिनट, मुहर्रम के जुलूस में हुए शामिल

कैच ब्यूरो | Updated on: 14 September 2018, 13:09 IST

Modi in Masjid: पीएम मोदी मध्य प्रदेश के इंदौर में बोहरा समुदाय के एक कार्यक्रम में शामिल हुए. इस दौरान वह मुहर्रम के जुलूस में भी शामिल हुए. इंदौर में दाऊदी बोहरा मुस्लिम समुदाय के 53वें धर्मगुरु सैयदना मुफद्दल सैफुद्दीन के साथ पीएम मोदी ने कार्यक्रम में हिस्सा लिया. इस दौरान उन्होंने नंगे पैर मस्जिद में प्रवेश किया और मजलिस में शामिल हुए. 

पीएम मुहर्रम के महीने में इमाम हुसैन की शहादत में होने वाले मातम में भी शामिल हुए. इस दौरान उन्होंने कहा कि इमाम हुसैन अमन और इंसाफ के लिए शहीद हो गए. पीएम ने इस मस्जिद में लगभग 35 मिनट गुजारे. उन्होंने बोहरा समुदाय द्वारा हो रहे मातम में पढ़े जाने वाले मरसिया और सैयदना की मजलिस को भी सुना.  

 

उन्होंने कहा कि दाऊदी बोहरा समाज के लोगों के बीच आना उनको हमेशा प्रेरणादायी लगता है. उन्हें यहां आकर नया अनुभव मिलता है. अशरा मुबारक के पवित्र अवसर पर बुलाने के लिए उन्होंने अपना आभार भी व्यक्त किया. 

पीएम मोदी ने कहा कि देश और दुनिया में बोहरा समाज के लोग जुड़े हैं. बोहरा समाज ने सदियों से इमाम हुसैन के संदेश को दुनिया में पहुंचा रहा है. इसमें बोहरा समाज का एक एक जन जुड़ा हुआ है. बोहरा समाज पूरे विश्व को भारत की ताकत से परिचय करा रहा है. बोहरा समाज सबको साथ लेकर चलता है. राष्ट्र के प्रति बोहरा समाज की भूमिका सदैव वसुधैव कुटुम्बकम की रही है.
 
 
 
उन्होंने कहा कि जन्मदिन से पहले ही मुझे इस पवित्र मंच से आशीर्वाद मिला है. पीएम ने कहा कि बोहरा समाज के धर्मगुरु अपने प्रवचन के माध्यम से अपनी मिट्टी से मोहब्बत की बातें कहते हैं. बोहरा समाज के साथ मेरा रिश्ता काफी पुराना रहा है. मैं इस परिवार का सदस्य हूं. मेरे दरवाजे आपके लिए हमेशा खुले हैं. 
 
गौरतलब है कि बोहरा समुदाय और मोदी का साथ गुजरात के उनके मुख्यमंत्री कार्यकाल के समय से ही देखा जा सकता है. इसका एक कारण है गुजरात में व्यापारियों के हित में बनाई गयी नीतियां. ऐसा माना जाता है कि इन नीतियों के बाद से बोहरा समुदाय मोदी के साथ जुड़ा और तब से लेकर आज जब नरेंद्र मोदी भारत के प्रधानमन्त्री बन गए है ये साथ बदस्तूर जारी है.
First published: 14 September 2018, 13:09 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी