Home » इंडिया » Madhya Pradesh: Scrub Typhus claims two lives, 11 districts found infected
 

कोरोना वायरस से लड़ रहे देश के लिए मध्यप्रदेश से आई डरावनी खबर, 200 साल पुरानी इस बीमारी ने ली बच्चों की जान

कैच ब्यूरो | Updated on: 13 November 2020, 14:18 IST

कोरोना वायरस के कारण भारत सहित पूरी दुनिया में हाहकार मचा हुआ है. इस वायरस के असर के कारण पूरी दुनिया में 5 करोड़ 24 लाख लोग संक्रमित हो चुके हैं जबकि 12 लाख 93 हजार से अधिक लोग अपनी जान गंवा चुके हैं. बाद अगर अपने देश की करें तो  87 लाख लोग इस वायरस से संक्रमित हो चुके हैं जबकि 1 लाख 28 हजार से अधिक लोग इस वायरस की चपेट में आने के कारण अपनी जान गंवा चुके हैं. कोरोना वायरस के असर के कारण भारत अभी तक पूरी तरह से उबर भी नहीं पाया है कि मध्यप्रदेश के पन्ना जिले से ऐसी खबर सामने आई है, जिसने सरकार की चिंता बढ़ा दी है. दरअसल, पन्ना और जबलपुर में करीब 200 साल पुरानी बीमारी स्क्रब टाइफस एक बार फिर से लोगों को अपना शिकार बना रही है. खबरों के अनुसार, इस बीमारी की चपेट में आने के कारण अब तक चार लोगों की जान जा चुकी हैं जिसमें 2 मासूम बच्चे भी शामिल हैं. बता दें,  स्क्रब टाइफस चूहों और छछूंदरों से फैलती है.

पन्ना जिले के चार लोगों में स्क्रब टाइफस के लक्षण दिखाने के बाद उन्हें जबलपुर के नेताजी सुभाष चंद्र बोस मेडिकल कॉलेज लाया गया. इनमें से गुरुवार को दो मरीजों की मौत हो गई, पन्ना सीएमएचओ ने इस बात की पुष्टि की है. पन्ना के जिन लोगों को जबलपुर भेजा गया हैं उनमें पवई, अमानगंज, अजयगढ़ के रहने वाले मरीज है.


पन्ना के सीएमएचओ डॉ एलके तिवारी ने बताया कि जबलपुर मेडिकल कॉलेज में स्क्रब टाइफस के कारण दो मौतें हुई हैं. डॉ एलके तिवारी ने कहा,"हम दो रोगियों की मृत्यु और दो अन्य की स्थिति के बारे में मेडिकल कॉलेज से विवरण मांग रहे हैं. राज्य में पन्ना और जबलपुर के आसपास के ग्यारह जिले प्रभावित हैं इसलिए यह स्वास्थ्य विभाग के लिए एक गंभीर विषय है. राज्य सरकार की टीमों ने विवरण के लिए पन्ना का दौरा किया है."

अतिरिक्त निदेशक स्वास्थ्य डॉ. वीना सिन्हा ने कहा कि इस बारे में चिंतित होने की कोई बात नहीं है क्योंकि यह कोरोनावायरस की तरह कुछ भी नहीं है. डॉ. वीना सिन्हा ने कहा,"स्क्रब टाइफस हर साल सामान्य रूप से फैलता है. हमने टीम को पन्ना और अन्य जिलों में मामलों को देखने के लिए भेजा है."

स्क्रब टाइफस, जिसे झाड़ी टाइफस के नाम से भी जाना जाता है, एक बीमारी है जो ओरिएंटिया ट्ससटुगामुशी नामक बैक्टीरिया से होती है. संक्रमित टाइगर (लार्वा माइट) के काटने से स्क्रब टाइफस लोगों में फैलता है. स्क्रब टाइफस के सबसे आम लक्षणों में बुखार, सिरदर्द, शरीर में दर्द और कभी-कभी दाने होना शामिल हैं.

Coronavirus: दिल्ली में भयावह हुई स्थिति, कोरोना वायरस से पिछले 24 घंटों में सबसे ज्यादा मौत

First published: 12 November 2020, 22:01 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी