Home » इंडिया » Madhya Pradesh: Seven people dead and three injured after a house collapsed in Sagar's Rahatgarh area
 

तस्वीरें: एमपी में बर्बादी की बारिश ने ली 15 की जान, सागर में मकान ढहने से 7 मरे

कैच ब्यूरो | Updated on: 20 August 2016, 16:21 IST
(पत्रिका)

मध्य प्रदेश में भारी बारिश एकत बार फिर कहर बनकर बरसी है. राज्य में बारिश और बाढ़ की घटनाओं में 15 लोगों की मौत हो गई है.

सागर जिले के राहतगढ़ इलाके में शनिवार तड़के जोरदार बारिश के कारण एक कच्चा मकान ढहने से सात लोगों की मौत हो गई और तीन लोग गंभीर रूप से घायल हो गए. मृतकों में एक ही परिवार के 4 सदस्य और 3 रिश्तेदार शामिल हैं.

पत्रिका

जानकारी के मुताबिक, तेज बारिश के चलते राहतगढ़ के वार्ड नं. सात में आज तड़के मेहताब नाम के व्यक्ति का कच्चा मकान ढह गया. इस हादसे में मकान में गहरी नींद में सो रहे सात लोगों की मलबे में दबने से मौत हो गई

मध्य प्रदेश के विंध्य और बुंदेलखंड इलाके भारी बारिश और बाढ़ का कहर झेल रहे हैं. अगले 36 घंटों में भी भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है. मौसम विभाग के मुताबिक अगले तीन दिन तक इंदौर और आसपास के क्षेत्रों में झमाझम बारिश हो सकती है.

पत्रिका

इस बीच मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शुक्रवार को मंत्रालय में आपात बैठक बुलाई. सीएम ने बैठक के बाद अधिकारियों को सेना के संपर्क में रहने और हेलीकॉप्टर से मदद के निर्देश दिए हैं.

विंध्य क्षेत्र के रीवा और सतना जिले में पिछले चार दिनों से जारी बाढ़ से लाखों लोग फंस गए हैं. लोगों को बचाने के लिए सेना ने मोर्चा संभाल लिया है.

पत्रिका

सतना जिले के मैहर में तीन मंजिला इमारत गिरने से 25 लोग मलबे में दब गए. मौसम विभाग का अनुमान है कि अगले एक हफ्ते तक राज्य में भारी बारिश हो सकती है.

सतना जिले में 4515 और रीवा में 1550 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है. सीएम ने निर्देश दिए हैं कि किसी की भी जान नहीं जानी चाहिए, भले हेलीकॉप्टर की मदद लेनी पड़े. एयरलिफ्ट के जरिए लोगों को डूबने से बचाने के अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं.

पत्रिका
पत्रिका

First published: 20 August 2016, 16:21 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी