Home » इंडिया » Madhya Pradesh university warden dictatorship make girls nude for checking
 

यूनिवर्सिटी की हॉस्टल में सैनेटरी पैड्स देखकर भड़की वार्डन, चेकिंग के नाम पर उतरवाए 40 लड़कियों के कपड़े

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 March 2018, 11:33 IST

पिछले कुछ समय से देश भर में महिलाओं के खिलाफ अपराधों के मामले बड़ी संख्या में सामने आ रहे हैं. अभी हाल ही में दिल्ली के जेएनयू में निकाले गए मार्च में छात्रों के साथ बदसलूकी की गयी थी. इसके बाद अब मध्य प्रदेश से एक नया मामला सामने आया है. मध्य प्रदेश की डॉ हरिसिंह गौर यूनिवर्सिटी, सागर से नया विवाद सामने आया है.

यहां एक हॉस्टल की 40 लड़कियों ने हॉस्टल की वार्डन पर निवस्त्र करके तलाशी लेने का आरोप लगाया है. लड़कियों इसके खिलाफ हॉस्टल के सामने प्रदर्शन किया है. लड़कियों का आरोप है कि हॉस्टल के वार्डन ने हॉस्टल परिसर में इस्तेमाल किया हुआ सैनिटरी पैड मिलने पर सभी लड़कियों को निवस्त्र करके तलाशी ली है.

क्या था पूरा मामला

मध्य प्रदेश के सेंट्रल यूनिवर्सिटी में रविवार के दिन वार्डन जब निरिक्षण के लिए पहुंची तो वहां बाथरूम में यूज़्ड सेनेटरी पैड देख कर भड़क गयी. मामले की जांच के लिए वार्डन ने छात्राओं को चेकिंग करने के लिए बुलाया. हद तो तब हो गयी जब वार्डन ने एक एक छात्रा को निर्वस्त्र करके चेकिंग की.

जिसके बाद लड़कियों ने इसके खिलाफ प्रदर्शन किया है. पिछले कुछ दिनों से मध्यप्रदेश महिला विरोधी अपराधों को लेकर खबरों में हैं. दो दिन पहले ही भोपाल में एक लड़की के साथ गैंग रेप की खबर मीडिया में आई थी. कुछ दिन पहले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पुलिस के इस तरह के अपराधों पर सख्ती से निपटने की बात कह चुके हैं. जिसके बाद मध्य प्रदेश की सड़कों पर पुलिस मनचलों के खिलाफ अभियान चला रही है.

ये भी पढ़ें- BJP MLA के विवादित बोल, बॉयफ्रेंड बनाने से होते हैं लड़कियों पर अत्याचार

वार्डन के खिलाफ कार्रवाई
उपकुलपति ने कहा कि छात्राएं मेरी बच्चों की तरह है और मैं उनसे माफी मांगता हूं. उन्होंने कहा कि मैं सुनिश्चित करता हूं कि इस घटना पर कार्रवाई की जाएगी. अगर वार्डन की कोई गलती सामने आती है तो उसके खिलाफ एक्शन लिया जाएगा.

First published: 26 March 2018, 11:33 IST
 
अगली कहानी