Home » इंडिया » Maharashtra and Haryana results may spoil BJP's Rajya Sabha math
 

महाराष्ट्र और हरियाणा के परिणाम बिगाड़ सकते हैं बीजेपी की राज्यसभा की गणित

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 October 2019, 10:12 IST

हरियाणा और महाराष्ट्र में उम्मीद से कम सीटें जीतने के बाद राज्यसभा में भारतीय जनता पार्टी का गणित बिगड़ सकती है. इन दोनों राज्यों में बेहतर प्रदर्शन से बीजेपी 2018 में मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और राजस्थान के विधानसभा चुनावों के नुकसान की भरपाई हो सकती थी. फिर भी गुरुवार को आये परिणामों का मतलब राज्यसभा सीटों में मामूली गिरावट ही होगी. महाराष्ट्र और हरियाणा से राज्य सभा में 19 और पांच सदस्य भेजते हैं.

हरियाणा से पांच सदस्यों में से कांग्रेस के पास सिर्फ एक है, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के पास तीन और एक सुभाष चंद्रा एक निर्दलीय हैं. निश्चित रूप से चंद्रा भाजपा द्वारा समर्थित थे. महाराष्ट्र में कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के सात सांसद हैं, जबकि राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) के 11 सांसद हैं.

हरियाणा की पांच राज्यसभा सीटों में से दो-दो पर 2020 और 2022 में चुनाव होंगे. महाराष्ट्र की 19 राज्यसभा सीटों में से सात पर 2020 में चुनाव होंगे. महाराष्ट्र की 19 राज्यसभा सीटों में से 7 पर 2020 में चुनाव होंगे जबकि 6 पर 2022 में चुनाव होंगे. एनडीए के पास सात सीटें हैं जबकि कांग्रेस-एनसीपी के पास पांच हैं.

 

हरियाणा में 2020 और 2022 में होने वाले चार राज्यसभा सीटों में से कांग्रेस के पास सिर्फ एक सीट है. पीआरएस विधायी अनुसंधान द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार हरियाणा और महाराष्ट्र में राज्यसभा सांसद का चुनाव करने के लिए आवश्यक विधायकों की संख्या क्रमशः 30 और 36 है.चूंकि हरियाणा में दो सीटों पर मतदान होगा और 2020 में महाराष्ट्र में एक साथ सात सीटें होंगी, इसलिए भाजपा के पास हरियाणा में एक से अधिक राज्यसभा सदस्य और भाजपा-शिवसेना को भेजने के लिए पर्याप्त वोट नहीं होंगे.

वर्तमान में कांग्रेस के 45 के मुकाबले भाजपा के पास ऊपरी सदन में 82 सांसद हैं, उसे छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश और राजस्थान जैसे राज्यों से अपनी राज्यसभा सीटों से नुकसान होगा, जहां वह 2018 में कांग्रेस से हार गई थी. भाजपा के पास छत्तीसगढ़ में केवल 15 विधायक हैं, जो राज्यसभा में एक सांसद को भेजने के लिए आवश्यक 30 से कम है. राजस्थान में इसके केवल 73 विधायक हैं, जो इसे केवल एक ही राज्यसभा सांसद दे सकता है.

जम्मू-कश्मीर ब्लॉक विकास परिषद चुनाव में BJP 280 में से केवल 81 ब्लॉक जीत पायी

First published: 25 October 2019, 10:08 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी