Home » इंडिया » maharashtra ats arrested rizwan, they supply girls for isis
 

मुंबई: लड़कियों का धर्म बदलवाकर आईएस में भर्ती कराने वाला संदिग्ध गिरफ्तार

कैच ब्यूरो | Updated on: 10 February 2017, 1:48 IST
(सांकेतिक फोटो)

महाराष्ट्र एटीएस और केरल पुलिस की संयुक्त कार्रवाई में केरल से आईएस में शामिल होने के लिए भागे हुए लोगों के मामले में रिजवान नाम के एक लड़के को गिरफ्तार किया गया है.

पुलिस ने अब तक इस मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया है. बताया जा रहा है कि गिरफ्तार किया गया रिजवान मुंबई के उपनगरीय क्षेत्र कल्याण का रहने वाला है.

पुलिस के मुताबिक रिजवान बोस्टिन और मरीन उर्फ मरियम की शादी का गवाह है. उसे भी जाकिर नाइक के प्रवक्ता अर्शी कुरैशी के साथ हिरासत में लिया गया था, लेकिन रिजवान को उस समय छोड़ दिया गया था. एटीएस ने रिजवान को दोबारा पूछताछ के लिए बुलाया और गिरफ्तार कर लिया.

गौरतलब है कि बीते दिनों केरल से 21 युवक अचानक लापता हो गए थे जिनके बारे में शक था कि सभी आईएस मे शामिल होने गए हैं. इसी मामले को लेकर महाराष्ट्र और केरल पुलिस जांच कर रही थी.

एटीएस की जांच की सुई कल्याण और नवी मुंबई पर आकर केंद्रित हो गई थी. जांच के बाद एटीएस ने नवी मुंबई से जाकिर नाइक के पीआरओ को गिरफ्तार किया था.

जाकिर के पीआरओ अर्शी कुरैशी से पूछताछ में इस बात का खुलासा किया कि मरियम की शादी के सर्टिफिकेट में रिजवान खान ने भी दस्तखत किए थे.

बताया जा रहा है कि केरल से भागी लड़की का नाम पहले मरीन था. वह दो साल पहले तक मुंबई में एक बीपीओ में काम करती थी. उसी दौरान मरीन की मुलाकात आईया नाम के लड़के से हुई. दोनों में दोस्ती हुई और बाद में दोनों ने शादी कर ली.

कहा तो ऐसा भी जा रहा है कि आईया लगातार जाकिर नाइक के इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन के दफ्तर में जाया करता था और पकड़े गए अर्शी कुरैशी के साथ लंबे समय से संपर्क में था.

आईया ने ही मरीन को अर्शी से मिलवाया और बाद में अर्शी कुरैशी ने मरीन का धर्म बदल कर इसे मरियम बना दिया था. इस मामले में मरीन का पति आईया अब भी लापता बताया जा रहा है. एटीएस और केरल पुलिस उसकी तलाश में लगातार छापेमारी कर रही है.

First published: 23 July 2016, 4:01 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी