Home » इंडिया » Maharashtra: Fadnavis demands punishment for the culprits on the death of 10 infants due to fire, order for investigation
 

महाराष्ट्र : अस्पताल में आग लगने से 10 शिशुओं की मौत, फडणवीस ने की दोषियों को सजा की मांग, जांच के आदेश

कैच ब्यूरो | Updated on: 9 January 2021, 10:28 IST

महाराष्ट्र के भंडारा में एक जनरल अस्पताल में आग लगने से 10 शिशुओं की दर्दनाक मौत पर देश के राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री ने दुःख व्यक्त किया है. महाराष्ट्र सरकार ने इस दुःखद घटना के जांच के आदेश भी दे दिए हैं. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा'' महाराष्ट्र के भंडारा में हुए अग्नि हादसे में शिशुओं की असामयिक मृत्यु से मुझे गहरा दुख हुआ है. इस ह्रदय विदारक घटना में अपनी संतानों को खोने वाले परिवारों के प्रति मेरी हार्दिक संवेदना'' प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा ''महाराष्ट्र के भंडारा में दिल दहला देने वाली त्रासदी है, जहां हमने कीमती युवा जीवन को खो दिया. मेरे विचार सभी शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं. मुझे उम्मीद है कि घायल जल्द से जल्द ठीक हो जाएंगे''.


महाराष्ट्र में विपक्ष ने नेता और पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस ने इस मामले में दोषियों को सजा की मांग की है. ANI के अनुसार उन्होंने कहा ''मैं भंडारा ज़िला अस्पताल के सिक न्यूबॉर्न केयर यूनिट (SNCU) में आग लगने की घटना में तत्काल जांच की मांग करता हूं. मैंने सरकार से दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने को भी कहा है.'' भंडारा के ज़िला कलेक्टर संदीप कदम ने बताया ''रात को करीब डेढ़ से दो बजे के बीच में सिक न्यूबॉर्न केयर यूनिट (SNCU) में आग लगने से 10 बच्चों की मौत हुई है और हमने 7 बच्चों को बचाया है. मामले में विस्तृत जाँच की जाएगी और घटना का कारण पता लगाया जाएगा''


महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा
''भंडारा ज़िला अस्पताल में आग लगने की घटना में मृतकों के परिजनों को 5 लाख रुपये की अनुग्रह राशि दी जाएगी. मुख्यमंत्री कार्यालय (CMO) ने कहा ''महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने ज़िला अस्पताल में आग लगने की घटना को लेकर स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे के साथ-साथ भंडारा ज़िले के ज़िला कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक से बात की. उन्होंने जांच का भी आदेश दिया है.''

शुक्रवार देर रात महाराष्ट्र के भंडारा के एक अस्पताल में भीषण आग लगने से दस नवजात शिशुओं की मौत हो गई. हादसा भंडारा जिला जनरल अस्पताल के सिक न्यूबॉर्न केयर यूनिट (एसएनसीयू) में सुबह 2 बजे हुआ. एएनआई ने अस्पताल में सिविल सर्जन प्रमोद खांडते के हवाले से बताया सात बच्चों को यूनिट से बचाया गया था.

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार ड्यूटी पर मौजूद नर्स ने दरवाजा खोला और कमरे में चारों तरफ धुआं देखा, तो उन्होंने तुरंत अस्पताल के अधिकारियों को बताया. जिसके बाद मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड ने अस्पताल में लोगों की मदद से रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया.

मुंबई: महाराष्ट्र के भंडारा के सरकारी अस्पताल में बच्चों के वार्ड में बीती रात दो बजे आग लग गई. आग में 10 नवजात बच्चों की जिंदा जलकर मौत हो गई है. इन बच्चों की उम्र एक दिन से लेकर 3 महीने तक बताई जा रही है. जिन बच्चों ने अभी जिंदगी का मुंह भी ठीक से नहीं देखा था. एक बड़ी लापरवाही ने उनकी जान ले ली.

दर्दनाक हादसा : अस्पताल में आग लगने से 10 नवजात शिशुओं की मौत, गृह मंत्री शाह ने जताया दुःख

First published: 9 January 2021, 10:26 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी