Home » इंडिया » Maharashtra Politics: Ajit Pawar Thansk PM Modi on Twitter
 

अजित पवार ने ट्वीट कर पीएम मोदी को दिया धन्यवाद, 'स्थिर सरकार' देने का जताया भरोसा

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 November 2019, 17:34 IST

शानिवार सुबह जो महाराष्ट्र का सियासी ड्रामा जो शुरू हुआ वो रविवार को भी जारी है. एक और जहां एनसीपी के नेताओं द्वारा दावा किया जाता रहा कि अजित पवार रविवार शाम को महाराष्ट्र के उप मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे सकते हैं तो हुआ उसके उलट. अजित पवार ने अपने पद से इस्तीफा देने की बजाए उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी को धन्यवाद करते हुए ट्विट कर दिया.

शानिवार सुबह राज्य के उपमुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद से अजित पवार मीडिया से दूर रहे. शानिवार दिन भर खबर आथी रही कि अजित पवार को लगातार संपर्क साधने का प्रयास किया जा रहा है लेकिन उनका फोन नहीं लगा. इसके बाद रविवार को अजित पवार ने बीजेपी ने उन तमाम लोगों का धन्यवाद किया जिसने उन्हें राज्य का उपमुख्यमंत्री बनने पर बधाई दी थी.

अजित पवार ने इसी के साथ ही अपने प्रोफाइल भी बदल ली है. अपने ट्विटर अकाउंट पर उन्होंने खुद को महाराष्ट्र का डिप्टी सीएम लिख लिया है. अजित पवार ने पीएम मोदी के शुभकामना ट्विट पर धन्यवाद देते हुए लिखा,' धन्यवाद माननीय प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी जी. हम एक स्थिर सरकार सुनिश्चित करेंगे जो महाराष्ट्र के लोगों के कल्याण के लिए कड़ी मेहनत करेगी.' अजित पवार ने गृह मंत्री अमित शाह, जेपी नड्डा, नितिन गडकरी, स्मृति ईरानी और राजनाथ सिंह सहित कई बीजेपी नेता और केंद्रीय मंत्री के भी ट्वीट का जवाब देते हुए शुभकामनाओं के लिए उन्हें धन्यवाद कहा है.

बता दें, आईएनएनएस की एक रिपोर्ट के अनुसार राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) नेताओं ने दावा किया कि अजीत पवार रविवार शाम को महाराष्ट्र के उप मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे सकते हैं. अजीत पवार के साथ गए विधायक पार्टी सुप्रीमो शरद पवार की तरफ लौट रहे हैं. पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने नाम नहीं जाहिर करने की शर्त के साथ आईएएनएस से कहा,'अजीत पवार आज शाम को इस्तीफा दे सकते हैं, क्योंकि अधिकांश विधायकों के शरद पवार के समर्थन में आने से उन पर दबाव बन रहा है.'

 

खबरों की मानें तो एनसीपी मुखिया शरद पवार ने अजीत पवार को वापस लौटने का संदेश भेजा है. इतना ही नहीं पार्टी के नेता जयंत पाटील अजित पवार से बात करने उनके घर भी गए थे. लेकिन अजित पवार ने पीएम मोदी को धन्यवाद देकर इस बात का साफ इशारा कर दिया है कि वो पार्टी में वापस नहीं जाएंगे.

दरअसल, एनसीपी के वो नेता जो अजित पवार से साथ गए वो थे वापस आ गए है इस बात का दावा एनसीपी के नेता कर रहे है. एनसीपी पार्टी नेताओं के अनुसार 54 विधायकों में से 48 विधायक शरद पवार के साथ आ गए हैं. इन नेता ने आगे कहा,'यहां तक कि बहुत से निर्वाचन क्षेत्रों में लोगों ने भाजपा के साथ जाने पर विधायकों को क्षेत्र में वापस नहीं आने की चेतावनी देते हुए पोस्टर लगाए है.'

वहीं एनसीपी के प्रवक्ता नवाब मलिक ने आईएएनएस से कहा कि अगर जरूरत हुई तो 288 सदस्यीय सदन में बहुमत साबित करने के लिए घंटे भर के भीतर तीनों पार्टियों के विधायकों की राज्यपाल के समक्ष परेड होगी.

महाराष्ट्र: संजय राउत का दावा, मौका मिलने पर मात्र 10 मिनट में साबित कर देंगे बहुमत

First published: 24 November 2019, 17:00 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी