Home » इंडिया » Maharashtra Politics: Supreme Court says, appropriate orders to be passed tomorrow
 

महाराष्ट्र: सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार सुबह तक टाली सुनवाई, सभी पक्षों को जारी किया नोटिस

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 November 2019, 12:52 IST

महाराष्ट्र में चल रहे सियासे ड्रामे को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार सुबह तक सुनवाई टाल दी है. इसके अलावा सुप्रीम कोर्ट ने सभी पक्षों को नोटिस जारी किया है. सुप्रीम कोर्ट अब इस मामले की सुनवाई कल सुबह 10.30 बजे करेगा. सुप्रीम कोर्ट ने इसके साथ गवर्नर का आदेश और समर्थन पत्र पेश करने का आदेश दिया है.

सुप्रीम कोर्ट ने जिन लोगों को नोटिस जारी किया है, उसमें शिवसेना, एनसीपी, कांग्रेस, केंद्र सरकार, महाराष्ट्र सरकार, देवेंद्र फडणवीस और अजीत पवार का नाम है. जस्टिस एनवी रमना, अशोक भूषण व संजीव खन्ना की स्पेशल बेंच इस मामले की सुनवाई कर रहे हैं.

इससे पहले कांग्रेस की तरफ से कोर्ट में पेश हुए वरिष्ठ वकील अभिषेक मनु सिंघवी ने सुप्रीम कोर्ट को कुछ सुझाव दिए थे. उन्होंने कहा था कि सोमवार सुबह प्रोटेम स्पीकर के रूप में सबसे सीनियर विधायक को चुना जाए और दोपहर 11 बजे से शाम 4 बजे तक विधायकों की शपथ हो जाए. उन्होंने कहा था कि इसके बाद सत्र आहूत कर फ्लोर टेस्ट कराया जाए.

दूसरी तरफ बीजेपी की तरफ से पेश हुए वकील मुकुल रोहतगी ने सुप्रीम कोर्ट से कहा कि राज्यपाल का फैसला समीक्षा से परे होता है. उन्होंने कहा कि संविधान के अनुच्छेद 360 और 361 में राष्ट्रपति और राज्यपाल के अधिकारों का विस्तार से बखान है. राज्यपाल अपने अधिकार क्षेत्र के तहत किए गए काम के लिए किसी भी कोर्ट के सामने जवाबदेह नहीं है. उन्होंने कहा कि राज्यपाल को अधिकार है कि वह किसको मुख्यमंत्री के रूप में चुनना चाहे.

महाराष्ट्र में सबसे बड़ा उलटफेर, फिर CM बने देवेंद्र फडणवीस, सोती रह गई शिवसेना

महाराष्ट्र: NCP के अजीत पवार बने डिप्टी CM, शरद पवार ने कहा- उनका निजी फैसला

First published: 24 November 2019, 12:38 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी