Home » इंडिया » Maharashtra: Shiv Sena attacks BJP for political crisis in Saamana
 

शिवसेना को सता रहा विधायकों के बिकने का डर, कहा- सत्ता के लिए 'थैली' बांट रहे लोग

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 November 2019, 10:05 IST

महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव का रिजल्ट आए एक अरसा बीत गया है लेकिन अभी तक सरकार बनाने के लिए बीजेपी और शिवसेना में खींचतान जारी है. महाराष्ट्र में सरकार गठन के लिए बहुत ही कम समय रह गया है. इस बीच शिवसेना ने एक बार फिर कहा है कि जनता की मांग है कि राज्य में शिवसेना का ही मुख्यमंत्री होना चाहिए.

शिवसेना को अपने विधायकों के बिकने का डर भी सता रहा है. इस कारण वह अब अधिक आक्रामक हो गई है. शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना में लिखा कि कुछ लोग नये विधायकों से संपर्क कर 'थैली' की भाषा बोल रहे हैं. वो राज्य में मूल्य विहीन राजनीति नहीं चलने देगी. सामना में लिखा गया कि इसके लिए शिवसैनिक तलवार लेकर खड़े हैं.

सामना में भाजपा पर शिवसेना के विधायकों को खरीदने के लिए पैसे बांटने का आरोप लगाया गया है. सामना में लिखा गया, " राज्य में महायुति की ही सरकार आएगी, ऐसी गर्जना भाजपा के चंद्रकांत दादा पाटील आदि नेताओं ने की है. उनके मुंह में शक्कर क्योंकि सुधीर मुनगंटीवार ने ‘खुश' खबर मिलेगी, ऐसा दावा किया है."

सामना में लिखा, "सवाल इतना है कि वो सरकार कब आएगी और कैसी होगी, ये दादा आदि ने नहीं बताया. भारतीय जनता पार्टी जिस ‘महायुति' की बात कर रही है वो आकार में बड़ी हो फिर भी उसमें शामिल कई दलों के एक भी विधायक नहीं हैं."

सामना में लिखा गया, "महाराष्ट्र की दृष्टि से अब एक ही खुशखबरी अपेक्षित है, वो है शिवसेना का नेता मुख्यमंत्री पद का शपथ ग्रहण करने वाला है. राज्य में एक स्वाभिमानी सरकार आएगी. यदि ऐसा जनता के ललाट पर लिखा होगा तो उस भाग्यरेखा को मिटाने की ताकत किसी में नहीं है."

19 साल तक LJP अध्यक्ष रहने के बाद राम विलास पासवान ने छोड़ा पद

सुषमा स्वराज ने गंभीर बीमारी के बाद भी विदेश में इलाज से कर दिया था मना, कहा था- देश से बड़ा कुछ नहीं

First published: 7 November 2019, 9:10 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी