Home » इंडिया » Maharastra: Aurangabad communal riot set city on fire 2 dies 15 policeman and 25 other injured
 

महाराष्ट्र: पानी को लेकर सांप्रदायिक हिंसा में जल उठा औरंगाबाद, 50 गाड़ियों में लगाई आग, दो की मौत

कैच ब्यूरो | Updated on: 12 May 2018, 15:51 IST

महाराष्ट्र के औरंगाबाद में पानी को लेकर शुरू हुई छोटी सी लड़ाई सांप्रदायिक हिंसा में बदल गयी. कल रात भर औरंगाबाद के कुछ इलाके हिंसा में जलते रहे. जिसमे कई गाड़ियां जला दी गयीं और ख़बरों के अनुसार एक युवक की गोली लगने से मौत भी हो गयी, वहीं एक अन्य के भी मरने की खबर है.

पुलिस के अनुसार लड़ाई की शुरुआत पानी की पाइप लाइन को लेकर हुई जिसमें दो गुटों के बीच झड़प हो गई. हालांकि अभी कारण की सही जानकारी नही हुई है लेकिन अभी तक पानी को लेकर हुए विवाद को ही इसका मूल कारण बताया जा रहा है. पुलिस के अनुसार, कल रात यानी शुक्रवार को पुराने औरंगाबाद इलाके में दो गुटों में झड़प हो गयी, जिसने सांप्रदायिक रंग ले लिया और पूरा इलाका हिंसा की चपेट में आ गया. इस लड़ाई के बाद सांप्रदायिक हिंसा शहर के गांधीनगर, राजाबाजार और शाहगंज इलाकों में भी फैल गयी.

पुलिस के अनुसार, रात से ही कई जगहों पर हिंसक झड़पें जारी हैं. दोनों समुदाय के लोगों ने पत्थरबाजी की और कई गाड़ियों और दुकानों को आग के हवाले कर दिया. जानकारी के मुताबिक, हिंसक झड़प में अब तक 25 लोग जख्मी हुए हैं, जिसमें 15 पुलिसकर्मी हैं. पुलिस के कई अधिकारी भी घायल हुए हैं.

हालात को काबू करने के लिए पुलिस को गोलीबारी भी करनी पड़ी जिसमे एक बच्चा घायल हो गया. स्थिति को नियंत्रण में रखने के लिए पुराने औरंगाबाद के इलाके में धारा 144 लागू कर दी गयी है.

हालांकि पुलिस का कहना है कि लड़ाई का मूल कारण अभी पता नहीं चल सका है. माना जा रहा है कि कथित रूप से अवैध लगी पानी की पाइप लाइन काटने के मामले में झड़प शुरू हुई. वहीं व्यावसायिक वर्चस्व की भी आशंका जताई जा रही है.

फिलहाल शहर में हालात काबू रखने के लिए भारी मात्रा में सुरक्षा बल तैनात है. कुछ इलाकों में धारा 144 भी लगा दी गयी है.

First published: 12 May 2018, 10:52 IST
 
अगली कहानी