Home » इंडिया » Mahaveer Yadav died in saudi arabia, requested to sushma swaraj
 

सऊदी अरब: महावीर के परिवार की सुषमा स्वराज से गुहार

सुधाकर सिंह | Updated on: 2 June 2016, 16:33 IST

भारत के महावीर यादव ने ये कभी सपने में भी नहीं सोचा होगा कि मौत के बाद उनके शरीर को वतन की मिट्टी के लिए भी तरसना पड़ेगा. मामला उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले के रावतपुर गांव का है, जहां के महावीर लंबे अरसे से सऊदी अरब के रियाद शहर में काम कर रहे थे.

सऊदी अरब में महावीर यादव का 22 मई को दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया था, जिसके बाद से उनका शव रियाद के किंग फहद अस्पताल में है.

जानकारी के मुताबिक महावीर सऊदी अरब के स्थानीय निवासी मोहम्मद यासर के यहां काम करते थे. जिसने उनका पासपोर्ट जब्त कर लिया था. इस वजह से महावीर का शव को मौत के एक हफ्ते बाद भी भारत वापस लाने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है.

महावीर के पार्थिव शरीर को भारत लाने के लिए उनकी 22 साल की बेटी ममता ने रियाद में स्थित भारतीय दूतावास में एफिडेविट दाखिल किया है, जिस पर अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है.

महावीर यादव की 22 मई को रियाद में मौत हुई थी

गोरखपुर के महावीर की रियाद में मौत

चौंकाने वाली बात ये है कि महावीर को सात-आठ महीने पहले भी अपनी पत्नी की मौत के समय भी भारत नहीं आने दिया गया था. इस बार वो अपनी विकलांग बेटी के ऑपरेशन के लिए भारत आना चाह रहे थे लेकिन इससे पहले ही दिल का दौरा पड़ने से उनकी मौत हो गई. 

महावीर यादव के परिवार में पांच बेटियां हैं, जिन्हें अपने पिता के मौत पर गम जताने के लिए उनके पार्थिव शरीर का इंतजार है. इस सिलसिले में महावीर के रिश्तेदार विदेश मंत्रालय और भारतीय एम्बेसी सहित कई विभागों के चक्कर लगा चुके हैं, लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है.

हाल ही में विदेश में फंसे भारतीयों को वापस लाने के मामलों में विदेश मंत्रालय की त्वरित कार्रवाई को देखते हुए महावीर के परिजनों ने ई-मेल भेजकर और सोशल मीडिया के जरिए विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से इस मामले में दखल देने की गुहार लगाई है.

First published: 2 June 2016, 16:33 IST
 
अगली कहानी