Home » इंडिया » Mahmood farooqi acquitted by delhi high court from rape charges
 

दिल्ली हाईकोर्ट से पीपली लाइव के सह सह-निर्देशक महमूद फारूकी रेप केस में बरी

कैच ब्यूरो | Updated on: 25 September 2017, 16:25 IST

पिपली लाइव फिल्म के सह-निर्देशक महमूद फारूकी को दिल्ली हाईकोर्ट से बड़ी राहत मिली है. विदेशी छात्रा से रेप के एक मामले में दिल्ली हाईकोर्ट ने फारूकी को बरी कर दिया. फारूक़ी को संदेह का लाभ देते हुए हाईकोर्ट ने साकेत कोर्ट का फैसला पलट दिया. साकेत कोर्ट ने उन्हें विदेशी छात्रा के साथ रेप का दोषी क़रार देते हुए सात साल की सज़ा सुनाई थी.

दिल्ली हाईकोर्ट का फैसला आने से पहले अदालत में इस मामले में लंबी बहस चली. सवाल उठा कि क्या अगर ऐसा कुछ हुआ था तो क्या वह पीड़िता की सहमति से हुआ था या फिर उसकी मर्ज़ी के ख़िलाफ हुआ था. क्या फारूक़ी इस फर्क़ को समझ पाए थे या नहीं? अदालत ने महमूद फारूक़ी को संदेह का लाभ दिया है.

महमूद फारूक़ी को अगस्त 2016 में साकेत कोर्ट ने 7 साल की सज़ा सुनाई थी. इसके अलावा उनपर 50 हजार रुपये का जुर्माना भी लगाया था. आरोप था कि फारूकी ने कोलंबिया यूनिवर्सिटी की एक अमेरिकी शोधार्थी के साथ रेप किया है. शोधार्थी ने कहा था कि वह एक शोध के सिलसिले में दिल्ली आई थीं और फारूक़ी ने सुखदेव विहार स्थित फ्लैट पर 2015 में उनके साथ रेप किया था. मगर अब वह इस आरोप से मुक्त हो गए हैं.

First published: 25 September 2017, 16:25 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी