Home » इंडिया » Major Gogoi Case: Kashmiri girl claimed she come to meet him with her own will
 

मेजर गोगोई मामले में लड़की के बयान से नया ट्विस्ट, कहा- पहले भी साथ बिता चुके हैं समय

कैच ब्यूरो | Updated on: 26 May 2018, 14:39 IST

जम्मू-कश्मीर के एक होटल से आर्मी के चर्चित मेजर गोगोई को हिरासत में लिया गया था. जम्मू-कश्मीर पुलिस के अनुसार, जम्मू-कश्मीर के होटल ग्रैंड ममता से कॉल आने के बाद आर्मी ऑफिसर, स्थानीय नाबालिग लड़की और एक ड्राइवर को हिरासत में लिया गया था. आरोप है कि मेजर लड़की के साथ रात बिताने वाले थे.

अब इस मामले में नया ट्विस्ट आ गया है. न्यायिक मजिस्ट्रेट के सामने अपने बयाने में लड़की ने कई खुलासा किया है. लड़की ने कहा है कि वह मेजर की फेसबुक फ्रेंड है और अपनी मर्जी से उन्हें मिलने के लिए आई थी. लड़की ने यह भी बताया कि इस चक्कर में उसकी अपनी मां से लड़ाई हो गई थी. लड़की का भारतीय दण्ड संहिता की धारा 164 के तहत बयान दर्ज किया गया है.

लड़की ने मजिस्ट्रेट के सामने अपने बयान में कहा कि वह सोशल नेटवर्किंग साइट से उनको जानती है और उनकी दोस्त है. लड़की ने मजिस्ट्रेट को बताया कि वह अपनी मर्जी से उनके साथ गई थी क्योंकि वह मेजर के साथ समय बिताना चाहती थी. लड़की ने कहा कि वह पहले भी एक साथ समय बिता चुके हैं और वह उन्हें पहले से जानती है.

मामले की जांच कर रहे डीएसपी रैंक के अधिकारी ने बताया कि लड़की ने बताया कि वह यहां अपनी मर्जी से आई है. लड़की ने बताया कि वह और मेजर आउटिंग करते हुए कई मौकों पर मिल चुके हैं. बडगाम के चेक-ए-कवूसा गांव की रहने वाली लड़की ने मजिस्ट्रेट को अपना आधार कार्ड दिखाया जिसके अनुसार उसका जन्म 1999 में हुआ है. लड़की ने सिर्फ 10वीं तक की पढ़ाई की है और वह इस समय सेल्फ-हेल्प ग्रुप के साथ काम करती है.

बता देें कि गुरुवार को होटल ग्रैंड ममता के मालिक मंसूर अहमद ने बताया था कि आर्मी के एक मेजर ने ऑनलाइन होटल की बुकिंग कराई थी. वह श्रीनगर एयरपोर्ट से सीधा होटल पहुंचे थे. होटल मालिक ने बताया था कि मेजर ने रजिस्ट्रेशन फॉर्म पर दो लोगों का नाम लिखा था. होटल मैनेजमेंट ने उनसे दो आधार कार्ड देने के लिए कहा. इसके बाद उन्होंने जो दूसरा आधार कार्ड दिया वह एक लोकल कश्मीरी लड़की का था. अहमद ने बताया कि वह लड़की नाबालिग थी.

पढ़ें- आर्मी चीफ- मेजर गोगोई की गलती साबित होने पर मिलेगी ऐसी सजा कि याद रखेंगे लोग

अहमद के अनुसार, होटल का कमरा असम से गोगोई के नाम से बुक किया गया था. वह 24 मई को चेकआउट करने वाले थे. पुलिस ने बताया कि पुलिस दल मौके पर पहुंचा और सेना के मेजर गोगोई सहित सभी लोगों को पुलिस थाने ले आई. पुलिस महानिरीक्षक एस.पी. पानी ने घटना के संबंध में श्रीनगर(उत्तर) के पुलिस अधीक्षक की अगुवाई में एसआईटी जांच के आदेश दिए थे.
First published: 26 May 2018, 14:39 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी