Home » इंडिया » Malegaon 2008 blasts case: NIA court grants bail to two accused Sudhakar Chaturvedi and Sudhakar Dwivedi.
 

मालेगांव विस्फोट: दो और आरोपियों को मिली ज़मानत

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 September 2017, 19:45 IST

राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) की विशेष अदालत ने मंगलवार को सितंबर 2008 में मालेगांव विस्फोट मामले के दो प्रमुख आरोपी सुधाकर चतुर्वेदी व सुहार द्विवेदी को समानता के आधार पर जमानत दे दी. दोनों को 50 हजार रुपये की जमानत राशि व अन्य शर्तो के साथ जमानत दी गई.

सर्वोच्च न्यायालय द्वारा बीते महीने लेफ्टिनेंट कर्नल प्रसाद एस पुरोहित को जमानत दिए जाने के बाद चतुर्वेदी और द्विवेदी, उर्फ दयानंद पांडेय ने जमानत के लिए याचिका दायर की थी. पुरोहित मालेगांव मामले में प्रमुख आरोपी हैं.

इससे पहले, इस मामले में एक अन्य प्रमुख आरोपी साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर को बंबई उच्च न्यायालय जमानत पर रिहा कर चुका है. साध्वी को स्वास्थ्य व दूसरे आधारों पर करीब 9 साल की हिरासत के बाद जमानत दी गई.

महाराष्ट्र के नासिक जिले के मालेगांव में भीड़भाड़ वाली नूरजी मस्जिद के पास 29 सितंबर 2008 को जुम्मे की नमाज के बाद शक्तिशाली बम विस्फोट हुआ. इस विस्फोट में छह लोग मारे गए और 100 लोग घायल हो गए. मालेगांव मुंबई से उत्तर में करीब 300 किलोमीटर दूर है.

मस्जिद के पास किए गए इस विस्फोट को कांग्रेस ने 'भगवा आतंकवाद' नाम दिया था, क्योंकि पकड़े गए आरोपियों का ताल्लुक हिंदूवादी संगठनों से है. केंद्र में सत्ता बदलने के बाद इस मामले की जांच कर रही राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने अपना स्टैंड बदला है.

First published: 19 September 2017, 19:45 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी