Home » इंडिया » Mamata Banerjee Completes Dharna Protest Demonstration in Kolkata
 

ममता बनर्जी ने तीन दिन बाद खत्म किया धरना, बोलीं- लोकतंत्र की हुई जीत

कैच ब्यूरो | Updated on: 5 February 2019, 22:11 IST

पिछले तीन दिनों से कोलकाता में धरने पर बैठीं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने धरना समाप्त कर दिया. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि ये लोकतंत्र की जीत है. बता दें कि सीबीआई के मुद्दे पर ममता बनर्जी रविवार से धरने पर बैठी थीं. इसे लेकर केंद्र सरकार और ममता सरकार में पिछले तीन दिनों से घमासान मचा हुआ था.

धरना खत्म करने से पहले सीएम ममता बनर्जी ने पीएम मोदी पर जमकर हमला बोला. धरना खत्म करने का एलान करते समय् ममता बनर्जी के साथ आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू भी मौजूद थे. ममता ने धरना खत्म करते हुए कहा कि, यह संविधान और लोकतंत्र की जीत है, इसलिए अब धरना खत्म किया जाता है. वे यानि केंद्र सरकार सभी एजेंसियों और राज्य एजेंसियों को कंट्रोल करना चाहते हैं. ममता ने पीएम मोदी को दिल्ली से इस्तीफा देकर गुजरात जाने की बात भी कही. उन्होंने कहा कि वहां एक आदमी की सरकार, एक पार्टी की सरकार है.

धरना खत्म करते हुए बनर्जी ने कहा कि वह ऐसा विपक्षी की अहम पार्टियों के नेताओं के साथ सलाह-मशविरा और अदालत से अनुकूल आदेश आने के बाद कर रही हैं. बता दें सीएम ममता बनर्जी रविवार रात से एस्प्लेनेड इलाके के मेट्रो चैनल में धरने पर बैठी थीं. यह वही स्थान पर है जहां उन्होंने 2006 में सिंगुर में टाटा मोटर्स के लिए किसानों की भूमि अधिग्रहण के खिलाफ 26 दिन का अनशन किया था.

बता दें कि ममता बनर्जी चिट फंड घोटाले के सिलसिले में कोलकाता पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार से सीबीआई की पूछताछ की कोशिश के खिलाफ धरना पर बैठी थीं. इसे लेकर ममता ने आरोप लगाया कि आगामी लोकसभा चुनाव के दौरान तृणमूल कांग्रेस को हेलीकॉप्टर मुहैया करने के लिए किए गए समझौतों को रद्द करने को लेकर कंपनियों पर दबाव बनाया जा रहा है.

उन्होंने कहा कि तृणमूल कांग्रेस ने दो मौकों के लिए हेलीकॉप्टर बुकिंग की अग्रिम रकम दी थी और कंपनी ने दोनों मामलों में पैसा लौटा दिया. उन्होंने कहा कि वह इतनी डरी हुई क्यों है? इस तरह के कार्य से बीजेपी को ममद नहीं मिलेगी क्योंकि मैं पैदल भी चल सकती हूं, या साइकिल से भी जा सकती हूं. या, मैं ऑनलाइन हो सकती हूं जहां सोशल नेटवर्क और डिजिटल मंच है.

उन्होंने कहा कि बीजेपी द्वारा ब्लैकमेल किए जाने वाले लोग जब भगवा पार्टी में शामिल हो जाते हैं तब उनके खिलाफ केंद्रीय एजेंसियों द्वारा दर्ज मामले हटा दिए जाते हैं. उन्होंने कहा कि जब आप भाजपा में शामिल हो जाते हैं, तब कोई मामला नहीं होता. आपके खिलाफ कोई सीबीआई, ईडी, आयकर विभाग नहीं होता.

ये भी पढ़ें- अब 100 रुपये में भी खरीद सकेंगे रसोई गैस, जानिए कैसे मिलेगा लाभ

First published: 5 February 2019, 22:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी