Home » इंडिया » Manipur Journalist Kishor chandra sentenced 1 year jail for criticising Pm modi and BJP
 

सोशल मीडिया पर PM मोदी की आलोचना करना पड़ सकता है भारी, इस पत्रकार को हुई 1 साल की जेल

कैच ब्यूरो | Updated on: 19 December 2018, 13:20 IST
(Catch Hindi Creative)

मणिपुर के एक पत्रकार को प्रधानमंत्री मोदी और भारतीय जनता पार्टी की आलोचना करना भारी पड़ गया है. सोशल मीडिया पर पीएम मोदी की आलोचना करने के आरोप में मणिपुर के एक पत्रकार को 1 साल की सजा सुनाई गई है. गौरतलब है कि सोशल मीडिया पर कथित रूप से आलोचना करने के लिए इस पत्रकार को पुलिस ने कस्टडी में ले लिया था. पुलिस कस्टडी के एक महीने बाद उसे राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के तहत 12 महीने की सजा सुनाई गई है.

मणिपुर सरकार के मुताबिक, पत्रकार किशोरचंद्र वांगखेम को सोशल मीडिया पर कथित रूप से मोदी और बीजेपी सरकार की आलोचना करने के आरोप में 27 नवंबर को हिरासत में लिया गया था. पत्रकार ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म, फेसबुक पर एक वीडियो पोस्ट किया था जिसमे के मुख्यमंत्री बीरेन सिंह के साथ पीएम मोदी की आलोचना की गई थी. इस वीडियो के अपलोड करने के बाद उन्हें पुलिस ने हिरासत में ले लिया था.

क्या था वीडियो 

फेसबुक पर पोस्ट किए गए इस वीडियो में पत्रकार किशोरचंद्र ने सीएम बीरेन सिंह को पीएम मोदी और आरएसएस की कठपुतली बताया था. उनका कहना था कि झांसी की रानी लक्ष्मीबाई का मणिपुर से कोई भी संबंध नहीं है लेकिन इसके बाद भी उनकी जयंती को राज्य में चिह्नित किया गया. सूत्रों का कहना है कि इस वीडियो में पत्रकार ने सरकार को गिरफ्तार करने जैसी चेतावनी जारी की थी. इसी लिए पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया था.

2019 के लिए PM मोदी का मास्टर स्ट्रोक, 650 करोड़ की कर्जमाफी, किसानों को दी बड़ी राहत

 

गौरतलब है कि पत्रकार किशोरचंद्र ने फेसबुक पर ये वीडियो डालने के पहले ही अपनी नौकरी से इस्तीफा दे दिया था. किशोरचंद्र स्थानीय समाचार चैनल आईएसटीवी में काम करते थे. हालांकि पत्रकार की इस तरह से हुई गिरफ्तारी की आलोचना भारतीय पत्रकार संघ और प्रेस काउंसिल ऑफ इंडिया ने की है.

First published: 19 December 2018, 13:20 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी