Home » इंडिया » Manish Sisodia: 2000 note will increase black money and corruption

मनीष सिसोदिया: मोदी दुनिया के पहले अर्थशास्त्री है जिनके मुताबिक 1000 का नोट भ्रष्टाचार बढ़ाता है, 2000 का घटाता है

 

अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली दिल्ली सरकार और यहां के उपराज्यपाल नजीब जंग के बीच अनवरत जारी रस्साकशी का निकट भविष्य में कोई अंत नज़र नहीं आता. एक नई लड़ाई का दरवाजा शुंगलू कमेटी की रिपोर्ट ने खोल दिया है जिसे कुछ दिन पहले उपराज्यपाल को सौंपा गया है. अटकलें हैं कि इसमें दिल्ली सरकार के ऊपर विपरीत टिप्पणियां की गई हैं.

गौरतलब है कि अब तक दिल्ली सरकार द्वारा पारित की गई करीब 400 नीतिगत फाइलों को अवैध बताते हुए मानकर नजीब जंग ने इन फाइलों की जांच के लिए शुंगलू कमेटी का गठन किया था.

इसी तरह एक और टकराव दिल्ली महिला आयोग में नियुक्तियों को लेकर जारी है. दिल्ली महिला आयोग द्वारा नियुक्त किए गए करीब 90 से ज्यादा अस्थायी कर्मचारियों का वेतन तीन महीने से रोक दिया गया है. उपराज्यपाल ने अल्का दीवान नाम की एक अधिकारी को महिला आयोग में मेंबर सेक्रेटरी के रूप में नियुक्त किया है. उन्होंने आते ही सभी अस्थायी नियुक्तियों के वेतन पर रोक लगा दी है. खींचतान की सूची बहुत लंबी है मसलन आप के करीब 27 विधायकों पर लाभ के पद (ऑफिस ऑफ प्रॉफिट) के तहत मामला चुनाव आयोग में लंबित है.

इन तमाम विवादों से घिरी दिल्ली सरकार के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया पूरे विश्वास और भरोसे के साथ कहते हैं कि यह सब उन्हें परेशान करने की साजिश है. वर्तमान में चल रहे नोटबंदी के मसले पर वे केंद्र सरकार के खिलाफ बेहद आक्रामक रवैया अपनाते हुए कहते हैं यह चोरों की सरकार है. मनीष सिसोदिया के साथ अतुल चौरसिया की बातचीत  के अंश:

 
अतुल चौरसिया @beechbazar

एडिटर, कैच हिंदी, इससे पूर्व प्रतिष्ठित पत्रिका तहलका हिंदी के संपादक के तौर पर काम किया