Home » इंडिया » Mann ki Baat: PM Modi says In Ladakh, a befitting reply has been given to those coveting our territories
 

'मन की बात' में बोले पीएम मोदी- भारत की तरफ आंख उठाकर देखने वालों को दिया करारा जवाब

कैच ब्यूरो | Updated on: 28 June 2020, 12:12 IST

Mann ki baat live update: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने रविवार को रेडियो कार्यक्रम (Radio Programme) 'मन की बात' (Mann Ki Baat) में देशवासियों को संबोधित किया. इस दौरान पीएम मोदी (PM Modi) ने कई मुद्दों पर अपनी राय रखी. कोरोना (corona) जैसी वैश्विक महामारी और चीन से चल रहे सीमा विवाद (China Border tension) पर भी पीएम मोदी ने देश को संबोधित किया. प्रधानमंत्री नरेेंद्र मोदी ने चीन (China) के साथ चल रहे सीमा विवाद (Border Dispute) को लेकर कहा कि भारत (India) अपने पड़ोसियों के साथ दोस्ती निभाना जानता है तो फिर जरूरी समय पर उचित जवाब देना भी जानता है.

बता दें कि रविवार (Sunday) को पीएम मोदी (PM Modi) का यह 66वां मन की बात कार्यक्रम था. कार्यक्रम के दौरान पीएम मोदी ने कहा कि, "लद्दाख में भारत की भूमि पर, आंख उठाकर देखने वालों को करारा जवाब मिला है, भारत मित्रता निभाना जानता है तो आंख में आंख डालकर देखना और उचित जवाब देना भी जानता है. उन्होंने कहा कि हमारे वीर सैनिकों ने दिखा दिया है कि, वो कभी भी मां भारती के गौरव पर आंच नहीं आने देंगे. पीएम मोदी ने आगे कहा, लद्दाख में हमारे जो वीर जवान शहीद हुए हैं, उनके शौर्य को पूरा देश नमन कर रहा है. श्रद्धांजलि दे रहा है. पूरा देश उनका कृतज्ञ है. इन साथियों के परिवारों की तरह ही हर भारतीय इन्हें खोने के दर्द का भी अनुभव कर रहा है.


प्रधानमंत्री मोदी ने अपने 'मन की बात' कार्यक्रम में कोरोना का भी जिक्र किया. पीएम मोदी ने कहा कि भारत ने जिस तरह मुश्किल समय में दुनिया की मदद की, उसने आज शांति और विकास में भारत की भूमिका को और मजबूत किया है. दुनिया ने भारत की विश्व बंधुत्व की भावना को भी महसूस किया है. उन्होंने कहा कि अपनी संप्रभुता और सीमाओं की रक्षा करने के लिए भारत की ताकत और भारत के कमिटमेंट को देखा गया है.

कोरोना वायरसः दुनियाभर में मरने वालों की संख्या पांच लाख के पार, एक करोड़ से ज्यादा संक्रमित

प्रधानमंत्री ने मन की बात में कहा कि अभी, कुछ दिन पहले, देश के पूर्वी छोर पर साइक्लोन अम्फान आया, तो पश्चिमी छोर पर साइक्लोन निसर्ग आया. कितने ही राज्यों में हमारे किसान भाई–बहन टिड्डी दल के हमले से परेशान हैं और कुछ नहीं, तो देश के कई हिस्सों में छोटे-छोटे भूकंप रुकने का ही नाम नहीं ले रहे. इन सबके बीच, हमारे कुछ पड़ोसियों द्वारा जो हो रहा है, देश उन चुनौतियों से भी निपट रहा है. वाकई, एक-साथ इनती आपदाएं, इस स्तर की आपदाएं, बहुत कम ही देखने-सुनने को मिलती हैं. मन की बात में पीएम मोदी ने कहा कि भारत में जहां एक तरफ बड़े-बड़े संकट आते गए, वहीं सभी बाधाओं को दूर करते हुए अनेकों-अनेक सृजन भी हुए हैं.

पेट्रोल-डीजल की कीमत में 21 दिन बाद थमा बढ़ोतरी का सिलसिला, जानिए आज तेल के रेट

पीएम मोदी ने कहा कि लोग कह रहे हैं कि यह साल ठीक नहीं है. लेकिन मैं कहता हूं कि एक साल में एक चुनौती आए या 50, साल कभी खराब नहीं होता है. वहीं लद्दाख गतिरोध पर पीएम मोदी ने कहा कि भारत दोस्ती निभाने के साथ-साथ उचित जवाब देना भी जानता है. वहीं कोरोना के बारे में पीएम ने कहा कि लॉकडाउन से ज्यादा सतर्कता हमें अनलॉक के दौरान बरतनी है. इस बात को हमेशा याद रखिए कि अगर आप मास्क नहीं पहनते हैं, दो गज की दूरी का पालन नहीं करते हैं, या फिर दूसरी जरूरी सावधानियां नहीं बरतते हैं तो आप अपने साथ-साथ दूसरों को भी जोखिम में डाल रहे हैं.

भारत में तेजी से बढ़ रही कोरोना संक्रमितों की संख्या, पिछले चौबीस घंटों में आए 19,906 नए मामले

First published: 28 June 2020, 12:12 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी