Home » इंडिया » manohar parrikar death goa board cancels 18 march exams know new schedule
 

मनोहर पर्रिकर के निधन पर पूरे देश में राष्ट्रीय शोक, टली बोर्ड परीक्षाएं

कैच ब्यूरो | Updated on: 18 March 2019, 9:11 IST
(File photo)

मनोहर पर्रिकर के निधन के बाद आज पूरे देश में एक दिन का राष्ट्रीय शोक का ऐलान किया गया है. वहीं, गोवा में सात दिनों का राजकीय शोक का ऐलान किया गया है. मनोहर पर्रिकर के बाद गोवा के सभी स्कूल औऱ कॉलेज एक दिन के लिए बंद कर दिए गए हैं. वहीं, गोवा की बोर्ड परीक्षाएं टाल दी गई हैं.

 

गोवा में राजकीय शोक का ऐलान एक सप्ताह (18 मार्च से 24 मार्च) का किया गया है. जिसके बाद सोमवार को होने वाली बैंकिंग, कंप्यूटर साइंस, लॉजिक और को ऑपरेशन की परीक्षाएं 27 मार्च को होगी.

गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर एक बेदाग छवि वाले नेता थे. इऩके निधन के बाद तिरंगा आधा झुका रहेगा. सोमवार को प्रदेश के सभी सरकारी संस्थान और शैक्षणिक संस्थान भी बंद रहेंगे.

मालूम हो कि सीएम मनोहर पर्रिकर लंबे समय से कैंसर से जूझ रहे थे, लेकिन कुछ दिन पहले ही उनकी परेशानी काफी बढ़ गई थी, जिसके बाद उन्हें गोवा मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया था. लेकिन उनकी हालत लगातार गिरती गई और रविवार शाम उनका निधन हो गया. 63 साल के मनोहर पर्रिकर को भारत ही नहीं दुनिया सादगी वाले नेता के रूप में जानता है.

पर्रिकर इतने सादगी वाले नेता थे कि विधानसभा जाने के लिए खुद अपने स्कूटर का इस्तेमाल करते थे. यही नहीं कुछ दिनों पहले भी वह बीमारी की हालत में विधानसभा के सत्र में शामिल हुए थे. पर्रिकर के निधन पर राजनीति, सिनेमा, खेल और कला जगत से जुड़ी हस्तियों ने गहरा दुख जताया है. देश के रक्षा मंत्री रहते हुए भी मनोहर पर्रिकर के अहम योगदान निभाया.

बता दें कि पर्रिकर सितंबर में अमेरिका से इलाज करवाकर भारत लौटे थे. अमेरिका में एक हफ्ते उनका इलाज चला था. इससे पहले एक बार और इलाज के लिए वह तीन महीने के लिए अमेरिका गये थे.

अमेरिका से लौटने के बाद पिछले साल अक्टूबर के महीने में एक बार फिर उनकी तबीयत खराब हुई जिसके कारण उन्हें दिल्ली के एम्स में भर्ती कराया गया था. एक महीने एम्स में भर्ती रहने के बाद उन्हें एयर एंबुलेंस के जरिए गोवा ले जाया गया था. गोवा में उन्हें आईसीयू में भर्ती कराना पड़ा था.

CM मनोहर पर्रिकर अपने आखिरी पलों में ट्विटर पर इस नेता को कर गए याद

First published: 18 March 2019, 9:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी