Home » इंडिया » Manohar Parrikar: When did UPA government blacklist Agusta Westland
 

मनोहर पर्रिकर: अगस्ता वेस्टलैंड को यूपीए-2 ने कब ब्लैक लिस्ट किया ?

कैच ब्यूरो | Updated on: 1 May 2016, 12:28 IST

अगस्ता वेस्टलैंड मामले में सियासी पारा बढ़ता जा रहा है. अब रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने इस मामले में कांग्रेस के दावों को लेकर उसे कठघरे में खड़ा किया है.

इटली की मिलान कोर्ट ऑफ अपील्स के फैसले के बाद कांग्रेस और बीजेपी के बीत आरोप-प्रत्यारोप का सिलसिला तेज हो गया है.

संसद में आज राज्यसभा की कार्यवाही के दौरान सुब्रमण्यम स्वामी ने जब कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी का नाम लिया तो कांग्रेस सांसदों ने हंगामा मचा दिया. कांग्रेस की दलील है कि अगस्ता वेस्टलैंड को यूपीए-2 के कार्यकाल में ही ब्लैक लिस्ट किया गया था. 

parrikar


पढ़ें:अगस्ता वेस्टलैंड मामला: स्वामी ने लिया सोनिया का नाम, संसद में संग्राम

राज्यसभा में कांग्रेस के नेता गुलाम नबी आजाद ने सरकार पर निशाना साधते हुए बयान दिया. हालांकि रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने कांग्रेस के दावों पर सवाल उठाए हैं.

पर्रिकर का कहना है कि कांग्रेस के नेतृत्व वाली तत्कालीन यूपीए सरकार ने कंपनी को कब ब्लैक लिस्ट किया इस बारे में उसे बताना चाहिए.

एंटनी का सरकार पर वार


पर्रिकर का कहना है कि उन्हें पहले अगस्ता वेस्टलैंड घोटाले के मामले में इटली की अदालत के फैसले को पढ़ना चाहिए. इसके बाद मैं मामले पर अपनी कोई प्रतिक्रिया दूंगा.

पर्रिकर ने इस दौरान कहा कि हमारे पास कोर्ट के आदेश की कॉपी है, जिसका अंग्रेजी में अनुवाद किया गया है.

पढ़ें:अगस्‍ता वेस्‍टलैंड घोटाला: जद में पूर्व वायुसेनाध्यक्ष एसपी त्यागी और कांग्रेसी नेता

वहीं पूर्व रक्षा मंत्री एके एंटनी ने इस मामले को लेकर एक बार फिर केंद्र सरकार पर निशाना साधा है. एंटनी ने कहा, "पिछले दो साल से इस सरकार ने कुछ नहीं किया है. वो सो रहे थे."

इटली की मिलान कोर्ट ने अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर डील मामले में कंपनी के मालिक को रिश्वत देने का दोषी पाते हुए सजा सुनाई थी. अदालत के फैसले में कांग्रेस के कई नेताओं का नाम होने के बाद बीजेपी ने सवाल उठाए थे.

पढ़ें:अगस्ता वेस्टलैंड घोटाला: बिचौलिए का बयान, किसी गांधी को नहीं जानता

First published: 1 May 2016, 12:28 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी