Home » इंडिया » Masood Azhar matter: Syed Akbaruddin says he believes in MS Dhoni approach
 

आतंकी मसूद अजहर और धोनी का क्या है कनेक्शन? भारत के राजदूत सैयद अकबरुद्दीन ने लिया नाम

कैच ब्यूरो | Updated on: 2 May 2019, 18:11 IST

संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने बुधवार को आतंकी मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित कर दिया है. भारत के राजदूत और स्थायी प्रतिनिधि सैयद अकबरुद्दीन ने इस संबंध में भारतीय टीम के क्रिकेटर एम एस धोनी का जिक्र किया है. इसके बाद से ही लोग चर्चा करने लगे हैं कि मसूद अजहर और एमएस धोनी में ऐसा क्या कनेक्शन है जिसे लेकर भारत के राजदूत बात कर रहे हैं?

बता दें कि इंडियन एक्सप्रेस में छपी एक रिपोर्ट के अनुसार, 21 फरवरी की संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का पुलवामा हमले को लेकर निंदा बयान प्रमुख था. इस मुद्दे पर परिषद में आम सहमति संभव थी. अकबरुद्दीन ने आगे कहा, "मैं धोनी के दृष्टिकोण में यकीन करता हूं."

अकबरूद्दीन ने कहा कि धोनी का दृष्टिकोण है कि किसी लक्ष्य को पूरा करने की कोशिश के दौरान आप जितना सोचते हैं उससे कहीं ज्यादा का वक्त होता है. कभी मत कहिए समय खत्म हो गया, कभी भी हार मत मानिए.

बता दें कि मसूद अजहर को अब संयुक्त राष्ट्र ने अंतरराष्ट्रीय आतंकी घोषित कर दिया है. 14 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में आतंकी हमला हुआ था. इस हमले में CRPF के 40 जवान शहीद हो गए थे. हमले की जिम्मेदारी जैश-ए-मोहम्मद ने ली थी. इसके बाद से ही भारत लगातार जैश के सरगना मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित कराने की कोशिश कर रहा था.

इस घटना के लगभग 75 दिन बाद भारत को कामयाबी मिली है. संयुक्त राष्ट्र की सुरक्षा समिति के सदस्य देश अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस लगातार मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित कराने के लिए भारत के साथ कोशिश कर रहे थे, लेकिन चीन हमेशा मसूद अजहर को बचाता आ रहा था.

मसूद अजहर पर बार-बार चीन वीटो पॉवर का इस्तेमाल कर रहा था. चीन ने 10 वर्षों में 4 बार अजहर को बचाने के लिए वीटो का इस्तेमाल किया. साल 2009, 2016, 2017 और फरवरी, 2019 में चीन ने वीटो का इस्तेमाल कर अजहर को बचाया था. लेकिन अंतराष्ट्रीय स्तर पर लगातार पड़ रहे दबावों के चलते चीन को इस बार पीछे हटना पड़ा.

सनी देओल के नाम पर BJP को हो रही परेशानी, चुनाव हारने का बढ़ा खतरा

Video: ये क्या बोल गए गिरिराज सिंह- 'मोदी जी ने आतंकियों का समर्थन किया, सेना को गाली दी'

First published: 2 May 2019, 18:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी