Home » इंडिया » mayawati given controversial remark on mulayam singh yadav
 

मायावती: राजनीति से संन्यास ले लें मुलायम

कैच ब्यूरो | Updated on: 11 February 2017, 5:46 IST
(एजेंसी)

बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की अध्यक्ष मायावती ने उत्तर प्रदेश में सत्तारूढ़ समाजवादी पार्टी में जारी घमासान को ‘ड्रामेबाजी’ करार देते हुए कहा कि अगर इसमें सच्चाई है तो जनता के व्यापक हित में सपा प्रमुख मुलायम सिंह यादव अपने पुत्रमोह का त्याग करें और राजनीति से संन्यास ले लें.

मायावती ने लखनऊ स्थित बसपा मुख्यालय पर कहा, "सपा परिवार के कम से कम दर्जन भर लोग किसी-ना-किसी रूप में राजनीति से जुड़े हुए हैं और उन सभी के अपने-अपने स्वार्थ हैं."

अपनी बात को आगे बढा़ते हुए बसपा प्रमुख ने कहा, "ऐसे में सपा परिवार की आपसी घमासान, कलह तथा गंभीर विवादों की समय-समय पर आने वाली खबरें चुनाव के समय जनता का ध्यान बांटने के लिए ड्रामेबाजी वाली होती हैं."

मायावती ने कहा, "फिर भी अगर इसमें सच्चाई है तो प्रदेश की जनता के व्यापक हित में सपा परिवार के मुखिया मुलायम सिंह यादव को पुत्रमोह त्याग कर सक्रिय राजनीति से तुरन्त संन्यास ले लेना चाहिए."

गौरतलब है कि बीते 13 सितंबर को मुलायम परिवार में उस समय विवाद बढ़ गया था, जब मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने प्रदेश के मुख्य सचिव दीपक सिंघल को हटा दिया था. सिंघल अखिलेश के चाचा कैबिनेट मंत्री शिवपाल सिंह यादव के करीबी समझे जाते हैं.

इसके बाद मुलायम सिंह ने अखिलेश यादव से प्रदेश सपा अध्यक्ष का पद छीनकर शिवपाल को दे दिया था. इस बात से खफा मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी तगड़ा पलटवार किया और शिवपाल से लोक निर्माण, सिंचाई और सहकारिता जैसे महत्वपूर्ण मंत्रालय वापस ले लिये.

First published: 15 September 2016, 3:56 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी