Home » इंडिया » Mayawati: PM Modi was sleeping like a Kumbhkaran for two years when muslims and dalits were being targetted
 

गोरक्षकों पर बयान के बाद माया का पीएम मोदी पर हमला, कुंभकर्ण की तरह क्यों सो रहे थे?

कैच ब्यूरो | Updated on: 8 August 2016, 12:09 IST
(फाइल फोटो)

बसपा सुप्रीमो मायावती ने गोरक्षकों पर बयान के मामले में पीएम मोदी पर बड़ा हमला बोला है. पीएम मोदी ने दो दिन में दो बार कथित गोरक्षकों पर सख्त टिप्पणी की है. 

सोमवार को गोरक्षकों पर दिए बयान को लेकर मायावती ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला. उन्होंने कहा कि दो साल से गोरक्षक मुस्लिमों और दलितों को निशाना बना रहे थे और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कुंभकर्ण की तरह सो रहे थे.

राजनीति से प्रेरित बयान

बसपा प्रमुख ने गोरक्षकों पर दिए पीएम के बयान को राजनीति से प्रेरित बताया और कहा कि अब वे कुंभकर्ण की नींद से इसलिए जगे हैं, क्योंकि उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव नजदीक आ गए हैं.

पढ़ें: पीएम मोदी: मुझे गोली मारनी है तो मार दो, दलित भाइयों पर हमले बंद करो

वहीं मायावती ने अपने बागी नेता स्वामी प्रसाद मौर्य के बीजेपी में शामिल होने के सवाल पर कहा, 'मैं आया राम, गया राम पर कोई टिप्पणी नहीं करना चाहती.'

स्वामी मौर्य ने मायावती पर टिकट बेचने का आरोप लगाकर 22 जून को बसपा से इस्तीफा दे दिया था. वे आज बीजेपी में शामिल हो रहे हैं.

दो दिन में दूसरी बार बोले पीएम

इससे पहले गुजरात के ऊना में हुई दलितों की बर्बर पिटाई पर एक बार फिर पीएम मोदी ने बयान दिया. इस मुद्दे पर प्रधानमंत्री मोदी ने रविवार को तेलंगाना के गजवेल में कहा, "अगर किसी को हमला करना है तो मुझ पर करे. गोली चलानी है तो मुझ पर चलाए, पर दलित भाइयों पर हमला बर्दाश्त नहीं किया जाएगा."

गजवेल में विकास परियोजनाओं का उद्घाटन करने के बाद पीएम मोदी ने भाजपा कार्यकर्ताओं की एक बैठक को संबोधित किया. पीएम ने कहा कि वे दलित भाइयों की जगह पर ‘गोली खाने और हमला झेलने’ के लिए तैयार हैं.

पढ़ें: रात में गोरखधंधा करते हैं और दिन में गौरक्षा का चोला ओढ़ लेते हैं: पीएम मोदी

पीएम मोदी ने इस दौरान बात पर जोर दिया कि समाज को जाति और समुदाय के आधार पर बंटने नहीं दिया जाना चाहिए. भावुक अपील करते हुए मोदी ने लोगों से कहा कि वे दलितों की रक्षा और सम्मान करें, क्योंकि इस वर्ग की समाज द्वारा लंबे समय से उपेक्षा की गई.

First published: 8 August 2016, 12:09 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी