Home » इंडिया » mayawati press conference on dayashankar singh issue
 

मायावती ने कहा, अच्छा होता अगर दयाशंकर की पत्नी अपने पति पर भी केस करतीं

कैच ब्यूरो | Updated on: 24 July 2016, 17:28 IST
(कैच)

बीएसपी प्रमुख मायावती ने प्रेस कांफ्रेंस करके कहा कि अच्छा होता कि दयाशंकर सिंह की पत्नी मेरे ऊपर केस दर्ज कराने के साथ-साथ अपने पति पर भी केस दर्ज करातीं. साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि दयाशंकर सिंह की पत्नी को एक दलित बेटी के सम्मान के लिए भी धरने पर बैठना चाहिए.

स्वाति सिंह के आरोपों का जवाब देते हुए मायावती ने कहा कि उनकी पार्टी के किसी नेता और कार्यकर्ता ने कुछ भी गलत नहीं कहा है. जो भी आरोप लगाए जा रहे हैं वो राजनीति से प्रेरित हैं.

इस मौके पर मायावती ने सत्ताधारी सपा और बीजेपी पर भी जमकर हमला बोला. उन्होंने कहा कि दयाशंकर की गिरफ्तारी के लिए अखिलेश सरकार को दिया गया वक्त खत्म हो गया है. अब बसपा दोनों पार्टियों की मिलीभगत को जनता के सामने उजागर करेगी. बसपा नेत्री ने कहा कि अखिलेश सरकार दयाशंकर सिंह को बचा रही है.

मायावती ने नसीमुद्दीन सिद्दकी का बचाव करते हुए कहा कि नसीमुद्दीन ने कुछ गलत नहीं किया, बल्कि उसके नारों का गलत मतलब निकाला गया. उन नारों का मतलब था कि उनकी पत्नी और बेटी आकर देखे कि उनके पति ने क्या कहा है.

मायावती ने अखिलेश सरकार पर हमला करते हुए कहा कि कहा सीएम अखिलेश हमें अपनी बुआ कहते हैं और बुआ के सम्मान की रक्षा नहीं कर पाये. इसका हमें दुख है लेकिन जब हमारी सरकार बनेगी तो दयाशंकर सिंह पर कड़ा एक्शन लिया जाएगा.

मायावती ने कहा कि सपा और बीजेपी के मिलीभगत को जनता के सामने लाने के लिए बसपा 21 अगस्त को पश्चिमी उत्तर प्रदेश में एक बड़ी रैली करेगी और 28 अगस्त को बसपा माननीय मुलायम सिंह के संसदीय क्षेत्र आजमगढ़ में भी रैली करेगी. यह रैली बहुजन हिताय बहुजन सुखाय के नाम पर होगी.

First published: 24 July 2016, 17:28 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी