Home » इंडिया » MBA- engineering student applying for post of sweeper
 

देश में बेरोजगारी का आलम, 14 सफाईकर्मियों के लिए MBA-इंजीनियर समेत हजारों आए आवेदन

कैच ब्यूरो | Updated on: 6 February 2019, 12:42 IST
(Symbolic picture)

देश में बेरोजगारी की समस्या बहुत तेजी से बढ़ रही है. इस बात का अंदाजा इस एक आंकड़े से लगाया जा सकता है कि एमबीए-इंजीनियरिंग की डिग्री लेने के बाद भी युवा सफाई कर्मचारी की पोस्ट के लिए आवेदन कर रहे हैं. लोगों को उनकी डिग्री और योग्यता के आधार पर नौकरी नहीं मिल रही है इसलिए वो जॉब पाने के लिए किसी भी पोस्ट पर अप्लाई करने के लिए मजबूर हैं.

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक़ चेन्नई में निकली राज्य विधानसभा सचिवालय में सफाई कर्मचारी के 14 पदों पर निकाली गई भर्ती के लिए करीब 4,000 आवेदन आये हैं. हैरानी की बात ये है कि इन आवेदनों में एमबीए और इंजीनियरिंग डिग्री धारकों ने भी आवेदन किया है. इतना ही नहीं मात्र 14 पदों के लिए आये 4000 आवेदनों मे कॉमर्स, आर्ट्स और साइंस स्ट्रीम के उम्मीदवारों ने भी आवेदन किये हैं.

सवर्ण आरक्षण का ऐतिहासिक फैसला, करोड़ों बेरोजगार युवाओं को नौकरी कहां से देगी सरकार?

खबर के अनुसार इन 14 पदों के लिए होने वाले इंटरव्यू के लिए अब तक 3930 एडमिट कार्ड उम्मीदवारों को भेज दिए गए हैं. इससे पहले भी ऐसा ही एक मामला महाराष्ट्र में सामने आया था. जहां पर महाराष्ट्र मंत्रालय ने वेटर के 13 पदों पर भर्ती निकाली गई थी. इन भर्तियों के लिए 7000 हजार से ज्यादा आवेदन आये थे.

First published: 6 February 2019, 12:42 IST
 
अगली कहानी