Home » इंडिया » meerut bawal these two place was under the fire for several hours police force deployed
 

मेरठ में अफवाह के कारण घंटों तक सुलगती रही 100 झुग्गियां और एक धार्मिक स्थल, इंटरनेट सेवा बंद

कैच ब्यूरो | Updated on: 7 March 2019, 13:55 IST

उत्तर प्रदेश के मेरठ में भूसा मंडी में अवैध निर्माण तोड़ने पर भड़की हिंसा में 100 से ज्यादा झुग्गी झोपड़ियां जलकर राख हो गईं. इस घटना में एक धार्मिक स्थल भी जल गया है. खबरों के मुताबिक, मेरठ कैंट के थाना सदर इलाके की मलिन बस्ती में कैंट बोर्ड की टीम पुलिस के साथ अवैध निर्माण हटवाने गई थी.

इसी दौरान अफवाह फैल गई कि बोर्ड और पुलिस की टीम अवैध वसूली के करने आई है. इस अफवाह के फैसते ही लोगों ने बदतमीजी करते हुए मारपीट कर दी और पुलिसकर्मी का वायरलेस छीन लिया.

ये बात इतनी ज्यादा बढ़ गई कि लोगों ने पुलिस पर पथराव शुरू कर दिया, जिसके बाद पुलिस को लाठी चार्ज करना पड़ा. स्थानीय लोगों का कहना है कि पुलिस ने ही इन झुग्गियों में आग लगा दी. झुग्गियों में मौजूद गैस सिलेंडरो फटने से देखते ही देखते करीब 100 झुग्गियां जल कर राख हो गई.

घटना के बाद आग पर काबू पाने के लिए फायर ब्रिगेड की मदद ली गई. कई घंटों की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया, लेकिन तब तक पूरी झुग्गियां राख हो चुकी हैं. इसके साथ ही एक धार्मिक स्थल भी आग के चपेट में आ गई.

इस घटना से गुस्साए लोगों ने सड़क को जाम कर वाहनों को अपना शिकार बनाया. बढ़ते तनाव को देखते हुए आस-पास के इलाकों से पुलिस बल को को तैनात किया गया है. इसके साथ ही एनडीआरएफ की टीम भी मौके पर पहुंच चुकी है. इस घटना में कई पुलिस कर्मियों और स्थानीय लोगों को भी चोटें आई हैं.

इस मामले की जांच की जा रही है कि आखिरकार इस इलाके में आग किसने औऱ कैसे लगाई है. मामला तूल ना पकड़ ले इसके चलते प्रशासन ने इलाके की इंटरनेट सेवा को कुछ देर के लिए बंद कर रखा है.

राहुल का राफेल को लेकर बीजेपी पर फिर वार, कहा- PM मोदी के खिलाफ हो जांच

First published: 7 March 2019, 12:29 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी