Home » इंडिया » man who made the designer dress for lalu's sons
 

तेज और तेजस्वी को ओजस्वी ड्रेस पहनाने वाला डिजाइनर

रंगनाथ सिंह | Updated on: 5 May 2016, 19:28 IST
QUICK PILL
  • लालू यादव के छोटे बेटे तेजस्वी यादव को बिहार का उपमुख्यमंत्री और बड़े बेटे तेज प्रताप यादव को कैबिनेट मंत्री बनाया गया है. शपथ ग्रहण के मौके पर दोनो यादवपुत्र कुर्ता पजामा और नेहरू जैकेट में सजे नजर आए.
  • निफ्ट, दिल्ली से पढ़े फैशन डिजाइनर एमए रहमान ने दोनो के कपड़े डिजाइन किए. रहमान एक दक से लालू यादव के कपड़े बनाते आ रहे हैं. 2008 का रेल बजट भी उन्होंने रहमान के सिले कपड़ों में पेश किया था.

डिज़ाइनर कपड़ों के शौकिनों की ज़बान बिहार, पूर्वी चंपारण और फ़ैशन डिजाइनिंग, तीनों शब्द एक सांस में बोलते हुए शायद लड़खड़ा जाए.

बिहार के चंपारण रहने वाले फ़ैशन डिज़ाइनर एमए रहमान इन दिनों मीडिया की सुर्खियों में है. लालू यादव के दोनों बेटों तेजस्वी यादव और तेज प्रताप यादव ने शपथग्रहण के मौके पर रहमान का डिज़ाइन किया हुआ कुर्ता-पजामा और नेहरू जैकेट पहन रखा था.

रहमान पहली बार चर्चा में तब आए थे जब साल 2008 में तत्कालीन रेल मंत्री लालू यादव ने उनका डिज़ाइन किया हुआ पजामा-कुर्ता पहनकर रेल बज़ट पेश किया था.हर आम भारतीय की तरह रहमान के पिता भी चाहते थे कि वो डॉक्टर या इंजीनियर बनें. लिहाजा रहमान भी पटना से बारहवीं पास करने के बाद पिता की मर्जी के मुताबिक बैंगलोर के एक कॉलेज से इंजीनियरिंग करने चले गए.

बैंगलोर में रहमान का दिल लगा नहीं. बकौल रहमान, वो कुछ क्रिएटिव करना चाहते थे. वो कहते हैं, "बैंगलोर में मेरे एक दोस्त की बहन निफ़्ट में पढ़ रही थी. उसी से मुझे इस संस्थान के बारे में पता चला."रहमान आगे कहते हैं, "मुझे अच्छे कपड़े पहनने का बहुत शौक़ था. जब मैंने निफ़्ट के बारे में और ज्यादा पता करने की कोशिश की तब मुझे लगा कि यह एक अच्छा करियर भी हो सकता है."

लीक से हटकर करियर चुनने पर आम तौर पर उत्तर भारतीय लड़कों को परिवार के विरोध के सामना करना पड़ता है. लेकिन रहमान के पिता ने उनका साथ दिया.

रहमान कहते हैं, "जब मैंने अब्बा को बताया कि मैं इंजीनियरिंग छोड़ना चाहता हूं और फैशन डिज़ाइनर बनना चाहता हूं तो वो बोले अगर आपका यही मन है तो यही करिए. जो करिए अच्छे से करिए."

वो कहते हैं, "अब्बा को बताने के बाद मैं 2000 में इंजीनियरिंग छोड़कर बैंगलोर से सीधे बैग उठाकर दिल्ली पहुंच गया." शायद ये उनका जुनून ही था जो उन्हें निफ़्ट में एडमिशन भी मिल गया.

निफ़्ट के फ़ैशनपरस्त अंग्रेजीदां माहौल में एडजस्ट करने में क्या उन्हें कोई दिक्कत हुई? इस पर रहमान कहते हैं, "मैं बैंगलोर होकर दिल्ली आया था इसलिए ज़्यादा मुश्किल नहीं हुई. लेकिन मैं पहली बार ऐसी क्लास में पढ़ रहा था जिसमें 70% लड़कियां थीं."

साल 2003 में निफ़्ट से निकलने के बाद उन्होंने ग्रासिम, नाथ ब्रदर्स जैसी कंपनियों में काम किया. लेकिन वो कुछ अलग करना चाहते थे.

फ़ैशन इंडस्ट्री से राजनीतिक गलियारों तक वो कैसे पहुंचे? रहमान कहते हैं, "फ़िल्म स्टार, क्रिकेटर और दूसरे सेलेब्रिटी स्टारों के कपड़ों और उनके डिज़ाइनरों की हमेशा चर्चा होती है. मुझे लगा मुझे कुछ अलग करना चाहिए. मैंने पाया कि  नेताओं को फ़ोकस में रखकर कोई डिज़ाइनर काम नहीं कर रहा था. मैंने तय किया कि यह काम मैं करूंगा."

रहमान को पहला ब्रेक लालू यादव ने 2003 में दिया. उसके बाद धीरे-धीरे उन्हें दूसरे नेताओं से भी काम मिलने लगा. लेकिन पहली बार उन्हें प्रसिद्धि मिली 2008 में.

रहमान कहते हैं, "लालूजी जब रेल मंत्री थे तब उन्होंने साल 2008 में मेरा डिज़ाइन किया हुआ पजामा-कुर्ता पहनकर रेल बज़ट पेश किया था. जब मीडिया में वो ख़बर आयी तो कई नेताओं ने उसका नोटिस लिया. उसके बाद मुझे कभी पीछे मुड़कर नहीं देखना पड़ा."

पिछले 7-8 सालों में रहमान मुरली मनोहर जोशी, अहमद पटेल, शरद यादव, मणि शंकर अय्यर, एचडी कुमारस्वामी, एसनारायण रेड्डी, सिद्धार्थ नाथ सिंह जैसे बड़े नेताओं समेत दर्जनों सांसदों के लिए लिए कपड़े डिज़ाइन कर चुके हैं.

नेताओं के अलावा वो कई वरिष्ठ नौकरशाहों के लिए भी काम कर चुके हैं. पूर्व कैबिनेट सेक्रेटरी और पूर्व गवर्नर प्रभात कुमार, वरिष्ठ आईएएस एलवी सप्तर्षी और वरिष्ठ आईपीएस गुप्तेश्वर पांडे उनके क्लाइंट हैं.

रहमान एक बार फिर मीडिया में लालू यादव के कारण चर्चा में हैं. लालू के बेटे तेजस्वी और तेज प्रताप ने उनका डिज़ाइन किया हुआ कुर्ता-पजामा और नेहरू जैकेट पहनकर शपथ लिया.तेजस्वी को वो 2005 से जानते हैं. तेजस्वी पहले भी उनके डिज़ाइन किया हुए कपड़े पहन चुके हैं. लेकिन इस बार मीडिया में तेजस्वी के उप मुख्यमंत्री बनाए जाने को लेकर आयी ख़बरों के बाद रहमान भी ख़बरों में आ गए.

रहमान बताते हैं कि उन्होंने इस बार भी लालू यादव के लिए कई कुर्ता-पजामा बनाया है. इसके अलावा उन्होंने लालू यादव के दामाद और मीसा भारती के पति शैलेष यादव के लिए भी कपड़े डिज़ाइन किए हैं.

तेजस्वी को उप मुख्यमंत्री बनाए जाने की बाबत रहमान कहते हैं, "वो बहुत ही सोबर नेचर के हैं, मिलनसार हैं, युवाओं से जुड़ने की कोशिश करते हैं. वो कहते हैं कि उन्हें एक नया बिहार बनाना है, जिसमें बेरोजगारी न हो, युवाओं को रोजगार और शिक्षा मिले."

तेजस्वी के कपड़ों के बारे में उन्होंने बताया, "कुर्ता पाजामा कॉटन ब्लैंडेंड टू प्लायी मैटेरियल से बना है. एक नेहरू जैकेट ब्लू प्योर लिनेन से बनी है और  दूसरी डार्क ब्लू कॉटन सिल्क से.

अपने बेटों के कपड़ों पर लालू की प्रतिक्रिया क्या थी? इस सवाल के जवाब में रहमान कहते हैं, "लालू जी अपने देशी अंदाज में बोले. बहोत बढ़िया है... पहनो."

एक सवाल पाठकों के मन में शायद रह गया हो कि उन्हें नेताओं से पेमेेंट निकलवाने में कभी कोई दिक्कत होती है? रहमान कहते हैं, "ऐसी कोई दिक्कत नहीं होती. लेकिन तेजस्वी और तेज का ड्रेस एक गिफ़्ट है. ये हमारी तरफ से बिहार की जीत की बधाई है."

First published: 5 May 2016, 19:28 IST
 
रंगनाथ सिंह @singhrangnath

पेशा लिखना, शौक़ पढ़ना, ख़्वाब सिनेमा, सुख-संपत्ति यार-दोस्त.

पिछली कहानी
अगली कहानी