Home » इंडिया » Mehbooba Mufti wants BJP's word on freedom to rule
 

महबूबा चाहती हैं सरकार बनाने के लिए केंद्र करे सार्थक पहल

कैच ब्यूरो | Updated on: 16 March 2016, 14:41 IST

जम्मू-कश्मीर में मंगलवार को राज्यपाल एनएन वोहरा की अध्यक्षता वाली जम्मू-कश्मीर राज्य प्रशासनिक परिषद् (एसएसी) की बैठक स्थगित कर दी गई. वहीं राज्य में सरकार बनाने के लिए भाजपा और पीडीपी के बीच कुछ सुगबुगाहट नजर आ रही है.

राजभवन के प्रवक्ता ने इसका कोई स्पष्ट कारण नहीं देते हुए कहा कि मंगलवार को होने वाली एसएसी की बैठक को टाल दिया गया है. सरकार गठन को लेकर जम्मू-कश्मीर में जारी राजनीतिक गतिरोध के बीच एसएसी की बैठक में वित्त वर्ष 2016-17 के लिए राज्य में बजट प्रस्तावों पर विचार किया जाना था.

प्रदेश में सरकार के गठन की यह स्थिति केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली के एक दिन पहले संसद में दिये उस बयान के नजर आ कही है, जिसमें उन्होंने कहा था कि जम्मू-कश्मीर के लिए केंद्र कुछ काम करने को इच्छुक है.

जिसके बाद ही राजनीतिक हलकों में इस तरह के कयास लगाए जाने लगे कि पीडीपी और भाजपा जल्द ही सरकार बना सकते हैं. जेटली ने संसद में कहा था कि राज्य के सभी तीन क्षेत्रों जम्मू, कश्मीर और लद्दाख के समान विकास के लिए केंद्र सरकार पूरी तरह से प्रतिबद्ध है.

वहीं दूसरी तरफ पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने केंद्र सरकार से कहा है कि राज्य में भाजपा के साथ सरकार बनाने से पहले केंद्र राजनीतिक और आर्थिक मोर्चे पर राज्य को ध्यान में रखते हुए कुछ सार्थक कदमों की घोषणा करें. हम उसके बाद ही इस विषय पर कुछ कह पाएंगे.

गौरतलब है कि तत्कालीन मुख्यमंत्री मुफ्ती मोहम्मद सईद के निधन के एक दिन बाद राज्य में राज्यपाल शासन लगा हुआ है.

First published: 16 March 2016, 14:41 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी