Home » इंडिया » #MeToo: MJ Akbar files criminal defamation case against journalist Priya Ramani in Delhi Patiala House Court
 

#MeToo: एमजे अकबर ने पत्रकार प्रिया रमानी के खिलाफ किया आपराधिक मानहानि का केस

कैच ब्यूरो | Updated on: 15 October 2018, 15:33 IST

#Metoo अभियान में फंसे केंद्रीय मंत्री एमजे अकबर ने पत्रकार प्रिया रमानी के खिलाफ आपराधिक मानहानि का केस किया है. उन्होंने दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट में प्रिया रमानी के खिलाफ केस दायर किया है. एमजे अकबर ने अपने वकील करंजावाला एंड कंपनी के माध्यम से ये केस दर्ज करवाया है.

बता दें कि रविवार को ही उन्होंने आरोपों पर बयान जारी कर कहा था कि वो कानून कार्रवाई करेंगे. उन्होंने कहा था कि मेरे खिलाफ लगाए गये दुर्व्यवहार के आरोप झूठे और मनगढंत हैं. इन झूठे और बेबुनियाद आरोपों से मेरी छवि को अपूर्णीय क्षति पहुंची है.

 

बता दें कि मोदी सरकार में विदेश राज्य मंत्री शशि थरूर पर कई महिलाओं ने यौन शोषण का आरोप लगाया है. अकबर पर सबसे पहले मिंट लाउंज की पूर्व संपादक प्रिया रमानी ने आरोप लगाया था. प्रिया रमानी के बाद 11 और महिला पत्रकारों ने भी उन पर सेक्सुअल हैरेसमेंट का आरोप लगाते हुए खुलकर हमला किया था.

वहीं प्रिया रमानी के आरोपों पर अकबर ने कहा था कि प्रिया रमानी ने अपना अभियान एक साल पहले एक पत्रिका में लेख के साथ शुरू किया था. तब उन्होंने मेरा नाम नहीं लिया था क्योंकि वह जानती थीं कि वह झूठी कहानी है. इसके बाद जब उनसे हाल ही में पूछा गया कि उन्होंने मेरा नाम क्यों नहीं लिया तो उन्होंने एक ट्वीट में जवाब दिया था कि उनका नाम कभी नहीं लिया क्योंकि उन्होंने कुछ नहीं किया. अकबर ने आगे कहा कि अगर मैंने कुछ नहीं किया तो फिर कहां और कौन सी कहानी है?

पढ़ें- #MeToo: अपने खिलाफ यौन शोषण के आरोपों पर अदालत का दरवाजा खटखटा सकते हैं अकबर

गौरतलब है कि एक साल पहले प्रिया रमानी ने 'हार्वे विन्सिटन्स ऑफ द वर्ल्ड' नाम से लिखे पोस्ट में कहा था कि अकबर ने होटल के कमरे में उनका इंटरव्यू लिया और उन्हें शराब ऑफर की थी. उन्होंने बिस्तर पर उनके पास बैठने को कहा था. तब पोस्ट में कहा गया था कि अकबर अश्लील फोन कॉल्स, मैसेज और असहज टिप्पणी करने में माहिर हैं और अकबर ने हिन्दी गाने भी गाए.

First published: 15 October 2018, 15:33 IST
 
अगली कहानी