Home » इंडिया » #MeToo: Sexual harassment allegation on Sabarimala Temple activist Rahul Easwar by a women
 

#MeToo: सबरीमाला मंदिर में महिलाओं के प्रवेश का विरोध करने वाले एक्टविस्ट यौन शोषण में फंसे

कैच ब्यूरो | Updated on: 29 October 2018, 12:09 IST

#MeToo: केरल के सबरीमाला मंदिर में उग्र प्रदर्शनकारियों का नेतृत्व करने वाले अयप्पा धर्म समिति के अध्यक्ष और सामाजिक कार्यकर्ता राहुल ईश्वर यौन शोषण के आरोप में फंस गए हैं. उन पर एक जानी मानी आर्टिस्ट ने #MeToo के तहत यौन शोषण का आरोप लगा है. आर्टिस्ट ने बताया कि करीब 14 वर्ष पहले राहुल ने उनके साथ बदसलूकी की थी.

बता दें कि सबरीमालाा मंदिर विवाद को लेकर राहुल ईश्वर ने कहा था कि अगर 10 से 50 वर्ष की उम्र महिलाएं मंदिर में प्रवेश करेंगी तो कई लोग अपने हाथ काट लेंगे और सबरीमाला में खून फैला देंगे जिससे मंदिर बंद हो सके. इसके बाद उनपर एफआईआर दर्ज हो गई थी और उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया था. हालांकि बाद में उन्हें जमानत दे दी गई थी.

अब उन पर ही यौन शोषण का आरोप लगा है. यौन शोषण का आरोप लगाने वाली आर्टिस्ट ने बताया कि साल 2003-2004 में जब वह 12वीं में पढ़ती थीं और उस समय ईश्वर युवाओं के बीच काफी चर्चित थे. तब एक दोस्त के जरिए उनकी राहुल से दोस्ती हुई थी, इस दोस्ती से वह काफी खुश थीं.

पढ़ें- 8 सालों से अटके अयोध्या मामले में होगा फाइनल फैसला, SC में नए जजों की बेंच करेगी सुनवाई

एक्टिविस्ट ने बताया कि एक दिन ईश्वर ने मुझे अपने घर बुलाया और कहा कि उस समय मेरी मां भी घर पर होगी. राहुल ने कहा था कि हम वहां बैठकर बातें कर सकते हैं. एक्टिविस्ट ने बताया कि तब केरल में बहुत कम फ्लैट हुआ करते थे और ईश्वर उस समय एक फ्लैट में रहते थे. यह फ्लैट पलायम रूट पर बेकरी जंक्शन के पास था. एक्टिविस्ट ने याद करते हुए कहा कि वो बिल्डिंग ब्राउन कलर की थी. मैं वहां यह सोचकर गई कि मेरी मुलाकात उनकी मां से भी होगी. 

एक्टिविस्ट ने बताया कि हालांकि मुझे उनके फ्लैट में जाते ही अहसास हुआ कि उनकी मां वहां नहीं हैं. मैं उस समय बहुत छोटी थी इसलिए काफी डर गई थी. ईश्वर ने मुझे बताया कि उनकी मां अभी बाहर गई हैं और जल्द ही लौट आएंगी. इसके बाद उन्होंने मुझे बैठने के लिए कहा और एक पॉर्न फिल्म चला दी. इससे मैं असहज महसूस करने लगी.

पढ़ें- सबरीमाला विवाद: SC के फैसले के खिलाफ BJP अध्यक्ष अमित शाह ने केरल सरकार के लिए कही ये बात..

एक्टिविस्ट ने बताया कि इसके बाद ईश्वर ने मुझे अपना फ्लैट दिखाया और अपने कमरे में मुझे छूने और किस करने की कोशिश की. मुझे लगा कि मैं वहां फंस गई हूं मैं नहीं जानती थी कि इस पर कैसी प्रतिक्रिया दूं तो मैं पीछे हट गई और उन्हें मना किया. इसके बाद उन्होंने कई बार ऐसी हरकत की जिसके बाद मैं वहां से चली गई.

एक्टिविस्ट के अनुसार, "बाद में मुझे पता चला कि वो कई महिलाओं और लड़कियों के साथ इस तरह की हरकतें कर चुका है. इन दिनों मैं उसे हर जगह (सबरीमाला मंदिर के मामले के चलते) देख रही हूं तो मुझे उससे जुड़ी ये सब बातें याद आ रही हैं."
First published: 29 October 2018, 12:09 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी