Home » इंडिया » #MeToo: Symbiosis asks director to go on leave after 106 students complain of sexual harassment
 

#MeToo: सिम्बायोसिस के डायरेक्टर पर 106 छात्राओं ने लगाया यौन शोषण का आरोप

कैच ब्यूरो | Updated on: 21 October 2018, 12:13 IST

#MeToo: देश भर के सबसे प्रतिष्ठित संस्थानों में एक सिम्बायोसिस भी #MeToo के जद में आ गया है. माना जाता है. यह संस्थान अपने हाई-फाई और महंगे कल्चर के लिए भी मशहूर है. सिम्बायोसिस इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी (SIU) के निदेशक पर यौन शोषण का सनसनीखेज आरोप लगा है. कुल 106 स्टूडेंट्स ने अपने हस्ताक्षर कर मैनेजमेंट में लिखित शिकायत दर्ज कराई है.

मामले के बाद SIU ने सिम्बायोसिस सेंटर फॉर मीडिया एंड कम्युनिकेशन (SCMC) के डायरेक्टर अनुपम सिद्धार्थ को जांच पूरी होने तक छुट्टी पर जाने का आदेश दिया है. शिकायत करने वालों में संस्थान के वर्तमान छात्राओं के अलावा कई पूर्व स्टूडेंट्स भी शामिल हैं. छात्रों ने निदेशक के हाथों वर्षों से कथित उत्पीड़न और दुर्व्यवहार के आरोप लगाए हैं.

#MeToo मूवमेंट के अंतर्गत पिछले 10 दिनों में सिम्बायोसिस की कई छात्राओं ने अपने ऊपर हुए सेक्सुअल हैरेसमेंट का खुलासा किया है. छात्राओं ने अपने क्लासमेट, टीचर, डायरेक्टर पर यौन शोषण के आरोप लगाए हैं और यहां तक कि इंटर्नशिप के दौरान भी कैंपस के फीमेल स्टूडेंट्स द्वारा सामना किए जाने वाले कथित यौन उत्पीड़न के बारे में अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर शेयर किये हैं. छात्राओं ने कैंपस के अंदर की उत्प्रीड़ण की "विषाक्त" संस्कृति के बारे में बताया है और इसे समाप्त करने के लिए 200 से अधिक सुझाव भेजे हैं.

सिम्बायोसिस इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी के मुख्य निदेशक विद्या यरवडेकर ने कहा, "पहले से ही एक आंतरिक शिकायत समिति (आईसीसी) थी, जिसे अतीत में उठाए गए आरोपों को देखने के लिए बनाया गया था. पूर्व में दूसरे फैकल्टी के खिलाफ उत्पीड़न के मामलों में शिकायत पर निदेशक अनुपम सिद्धार्थ द्वारा कार्रवाई नहीं करने की बात भी सामने आयी है. हालांकि, इसके बीच हमें शिकायत पत्र भी मिली जिसमें 106 छात्रों ने हस्ताक्षर किए थे सिद्धार्थ को काफी अनुशासनात्मक माना जाता था, लेकिन कुछ आरोप चौंकाने वाले थे और हमने तुरंत इसे आईसीसी को रेफर किया संदर्भित किया, उसे सोमवार से छुट्टी पर भेजा जाएगा."

First published: 21 October 2018, 12:13 IST
 
अगली कहानी