Home » इंडिया » MHA officials says in Parliament There in no plan to implement NRC across the country
 

फिर बोली मोदी सरकार- फिलहाल नहीं है देशभर में NRC लागू करने का कोई प्लान

कैच ब्यूरो | Updated on: 4 February 2020, 13:10 IST

MHA on NRC across the country: देशभर में नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act) और एनआरसी (NRC) यानी राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर के खिलाफ चल रहे विरोध प्रदर्शन के बीच गृह मंत्रालय (Home Ministry) ने एक बार फिर से सफाई दी है कि फिलहाल सरकार (Government) का देशभर में एनआरसी लागू करने का कोई प्लान नहीं है.

बता दें कि संसद में नागरिकता संशोधन बिल पारित होने के बाद ये पहला मौका है जब सरकार ने संसद में आधिकारिक रूप से ये बात कही है कि वह अभी देशभर में राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर बनाने की कोई प्लानिंग नहीं है. गृह राज्यमंत्री नित्यानंद राय (Nityanand Rai) ने मंगलवार (Tuesday) को लोकसभा (Loksabha) में एक लिखित जवाब में ये जानकारी दी है. उन्होंने बताया, "अभी तक देशव्यापी एनआरसी को लेकर सरकार ने कोई फैसला नहीं लिया है."

बता दें कि शीतकालीन सत्र के दौरान जब संसद में नागरिकता संशोधन कानून पारित किया गया था, तब केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह (Home Minister Amit Shah) ने राज्यसभा (Rajyasabha) में कहा था कि राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (NRC) प्रक्रिया को पूरे देश में लागू किया जाएगा.

इसके साथ ही उन्होंने ये बात भी कही थी कि धर्म के आधार पर इसमें कोई भेदभाव नहीं होगा. बता दें कि शाह के इस बयान के बाद पूर्वोत्तर के कई राज्यों में एनआरसी को लेकर हिंसक विरोध प्रदर्शन हुए थे. असम, त्रिपुरा और बंगाल में सबसे ज्यादा हिंसा हुई थी. उसके बाद देशभर में विरोध प्रदर्शन शुरु हो गया. जिसमें दिल्ली का शाहीन बाग भी शामिल है जो दुनियाभर में आज सुर्खियां बटोर रहा है.

बता दें कि एनआरसी यानी नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजन एक ऐसा रजिस्टर है, जिसमें भारत में रह रहे सभी वैध नागरिकों को अपनी पूरी डिटेल दर्ज करानी होगी. सबसे पहले इसकी शुरुआत साल 2013 में सुप्रीम कोर्ट की देख-रेख में असम में हुई थी. असम के मौजूदा हालत को देखते हुए इसकी व्यवस्था की गई थी. उसके बाद 31 अगस्त 2019 को असम एनआरसी की फाइनल सूची जारी की गई. जिसमें 19 लाख से अधिक लोग अपने भारतीय होने का कोई सबूत नहीं दे पाए. फिलहाल एनआरसी असम के अलावा दूसरे किसी राज्य में लागू नहीं है. इसे लेकर अब गृह मंत्रालय ने भी सफाई दी है कि फिलहाल एनआरसी लाने की सरकार की कोई योजना नहीं है.

60 पाकिस्तानी उत्पीड़ित हिन्दुओं ने किया भारत में प्रवेश, CAA से है बड़ी उम्मीद

दिल्ली में वोट देने के लिए आने वालों को SpiceJet ने की फ्री टिकट की व्यवस्था

दिल्ली विधानसभा चुनाव: रैली में पीएम मोदी बोले- शाहीनबाग प्रदर्शन संयोग नहीं, प्रयोग है

First published: 4 February 2020, 13:11 IST
 
पिछली कहानी
अगली कहानी